.

.

.

.

,

,
.

रौनापार :काट कर छोड़े गए हाई वोल्टेज तार से बालक की मौत,फुफेरी बहन झुलसी,चक्का जाम

रौनापार :आजमगढ़ : रौनापार थाना क्षेत्र के अराजी देवारा नैनीजोर नई बस्ती गांव स्थित सरकारी ट्यूबवेल के पास  काट कर छोड़ दिए गए 11 हजार वोल्ट के विद्युत् तार की चपेट में आने से एक बालक की मौत हो गई। जबकि साथ में खेल रही उसकी फुफेरी बहन झुलस गई। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने क्षेत्र के दो लाइन मैन को मारपीट कर पुलिस के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं शहीद चौक रौनापार में शव को रखकर ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया। एसडीएम के आश्वासन पर एक घंटे बाद जाम समाप्त हो गया।गांव के ग्रामीणों का कहना है कि गांव स्थित सरकारी ट्यूबवेल के समीप से होकर गए बिजली के 11 हजार वोल्ट के तार को विभाग के प्राइवेट कर्मियों ने बीच से काटकर छोड़ दिया था। जिससे ग्यारह हजार वोल्ट का बिजली तार काफी दिनों से लटक हुआ था। गांव निवासी मातवर निषाद का 5 वर्षीय पुत्र विकास निषाद अपनी फुफेरी बहन 6 वर्षीय गोल्डी पुत्री अमरनाथ के साथ बुधवार को दिन में लगभग साढ़े ग्यारह बजे सरकारी ट्यूबवेल के पास खेल रहे थे। ग्रामीणों का कहना है कि खेलते समय दोनों बच्चे लटक रहे बिजली के उक्त तार के स्पर्श में आ गए। जिससे विकास की घटना स्थल पर ही मौत हो गई, जबकि उसकी फुफेरी बहन झुलस गई। झुलसी गोल्डी गोरखपुर जिले के मझगांवा गांव की निवासी थी। वह अपने मामा के घर आई हुई थी। घटना से आक्रोशित ग्रामीणों ने क्षेत्र के दो प्राइवेट लाइनमैन को पकड़ लिया और उनकी पिटाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया। घटना से गुस्साए ग्रामीणों ने रौनापार के शहीद चौराहे के पास पहुंच कर शव रखकर चक्का जाम कर दिया। चक्का जाम कर रहे ग्रामीण मृतक के परिजन को मुआवजा दिए जाने व दोषी बिजली विभाग के कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे। चक्का जाम की खबर पाकर सीओ सगड़ी सुधाकर सिंह , रौनापार थानाध्यक्ष गिरिजेश सिंह , जीयनपुर कोतवाल देवानंद ने भी मौके पर पहुंच कर जाम समाप्त कराने का प्रयास किया पर ग्रामीण अपनी मांगों पर अड़े हुए थे। बाद में एसडीएम सगड़ी पंकज श्रीवास्तव भी मौके पर पहुंचे, एसडीएम के आश्वासन पर एक घंटा बाद जाम समाप्त हो गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। झुलसी बालिका को परिजनों ने अस्पताल में भर्ती कराया है। चक्का जाम समाप्त होने के बाद बिजली विभाग के एसडीओ भी मौके पर पहुंचे। उन्होंने मृत बालक के परिजन को दस हजार रुपये का आर्थिक सहायता प्रदान किया। मृत बालक की मां दुईजा देवी ने बिजली विभाग के एसडीओ व जेई के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के लिए रौनापार थाने पर तहरीर दी है। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment