.

.

.

.

,

,
.

मार्टीनगंज ब्लाक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव तय, 67 बीडीसी सदस्य हुए परेड में शामिल

एसडीएम की अध्यक्षता में बैठक होगी, फ्लोर टेस्ट के माध्यम से बहुमत परीक्षण किया जायेगा-डीएम 

ठाकुर मनोज ने कहा दबंग लोग बीडीसी सदस्यों को दबाव में ले कर रहे हैं यह सब कुछ 

आजमगढ़: मार्टीनगंज ब्लाक प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह की कुर्सी छिननी लगभग तय हो गयी है। डीएम के निर्देश पर बीडीसी सदस्य गौरव सिंह मोनू के नेतृत्व में बुधवार को 67 बीडीसी सदस्य डीएम कार्यालय पहुंचकर परेड में शामिल हुए। एक बीडीसी सदस्य देर से पहुंचने के कारण डीएम के सामने पेश नहीं हो पाया। बाकि 66 बीडीसी सदस्यों का परिचय पत्र चेक कर डीएम ने उनकी पहचान सुनिश्चित करते हुए वीडियोग्राफी करायी। इसके बाद सदन की बैठक बुलाकर फ्लोर टेस्ट कराने का निर्देश दिया। इस मामले में मार्टीनगंज उपजिलाधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया जा रहा है।
वहीँ वर्तमान ब्लॉक प्रमुख ठाकुर मनोज सिंह ने मुंबई से फोन पर बताया की यह सब कुछ दबंगई के बल पर किया जा रहा है , हमारे ब्लॉक में काफी संख्या में बीडीसी दलित व ओबीसी हैं जिन्हे दबाव में ले कर यह सब किया जा रहा है , उन्होंने कहा की मेरी जिलाधिकारी महोदय से अपील है की प्रस्ताव के पक्ष में हुए हस्ताक्षरों की जांच करवा लें। उन्होंने आरोप लगाया की महिला बीडीसी के पतियों द्वारा हस्ताक्षर करने की भी उन्हें जानकारी मिल रही है।
बहरहाल आज जिलाधिकारी के समक्ष बहुमत से काफी ज्यादा लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करा ठाकुर मनोज सिंह की कुर्सी हिला दी है , जिसकी बाकायदा परिचय पत्र सत्यापन के बाद वीडियोग्राफी भी प्रशासन ने करा दी है।
बता दें कि मार्टीनगंज क्षेत्र पंचायत में 97 सदस्य हैं जो क्षेत्र पंचायत प्रमुख का चुनाव करते हैं। 07 फरवरी 2016 को हुए चुनाव में मार्टीनगंज ब्लाक से बीजेपी के सौरभ सिंह सोनू ब्लाक प्रमुख चुनाव जीते था। 26 नवंबर 2016 को दुर्घटना में सौरभ सिंह का निधन होने के बाद यह सीट खाली हो गयी थी। वर्ष 2017 में इस सीट पर उपचुनाव कराया गया था। उस समय सपा के पूर्व नेता ठाकुर मनोज सिंह मैदान में उतरे तो बीजेपी से सौरभ के छोटे भाई गौरव सिंह मोनू ने चुनाव लड़ा। 13 अगस्त 2017 को हुए मतदान में ठाकुर मनोज विजयी रहे।
लेकिन कई जालसाजी के मामलों में वारट होने के कारण वे महीनों तक शपथ नहीं ले पाए थे । 30 अक्टूबर 2017 को मनोज सिंह ने ब्लाक प्रमुख पद की शपथ ली। आरोप है की इसके बाद मनोज विरोधी ही नहीं अपने समर्थक बीडीसी सदस्यों की भी उपेक्षा करने लगे। जिससे उनके समर्थक बीडीसी भी नाराज हो गए और गौरव सिंह के पाले में चले गए।
सोमवार को दर्जनों बीडीसी सदस्यों के साथ गौरव सिंह ने डीएम कार्यालय पहुंचकर 78 सदस्यों के शपथ पत्र के साथ अविश्वास प्रस्ताव की नोटिस सौंपा था। इसके बाद डीएम ने समर्थक बीडीसी सदस्यों के परेड के लिए 28 नवंबर की तिथि निर्धारित की थी।ं बुधवार को पूर्वाह्न 11 बजे 67 बीडीसी सदस्यों के साथ गौरव सिंह, सिकंदर यादव आदि डीएम कार्यालय पहुंचे। यहां सभी सदस्यों का परेड कराया गया। इसके बाद जिलाधिकारी ने एक-एक कर सभी सदस्यों की पहचान उनके परिचय पत्र व आधार कार्ड से मिलान कर किया।
जिलाधिकारी शिवाकांत द्विवेदी ने बताया कि मार्टीनगंज ब्लाक प्रमुख के खिलाफ आधे से अधिक सदस्यों ने उनके कार्यालय पहुंचकर अविश्वास प्रस्ताव की नोटिस दिया है । सदन की बैठक बुलाने के लिए आदेश दिया गया है। नोटिस जारी की जा रही है। नियमानुसार एसडीएम की अध्यक्षता में बैठक होगी और फ्लोर टेस्ट के माध्यम से बहुमत परीक्षण किया जायेगा।
गौरव सिंह मोनू ने कहा कि ब्लाक प्रमुख मनोज सिंह के तानाशाही रवैये से क्षुब्ध 67 सदस्यों ने डीएम के समक्ष पहुंचकर अविश्वास प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किया है। फ्लोर टेस्ट तक यह संख्या बढ़कर 78 हो जायेगी। हम सभी सदस्यों का मात्र एक उद्देश्य क्षेत्र का विकास है। यह अविश्वास प्रस्ताव सभी सदस्य मिलकर लाये हैं। हमारी जीत निश्चित है। सदन की बैठक के लिए जो भी तिथि निर्धारित होती है उस तिथि मे ब्लाक प्रमुख मनोज सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पारित करायेंगे।
क्षेत्र पंचायत सदस्य सिकंदर यादव ने कहा कि ठाकुर मनोज की मनमानी से सभी सदस्य परेशान हैं। इसलिए उनकों हटाने का फैसला लिया गया है। उन्होंने बीडीसी सदस्यों के साथ धोखा किया है। उनके धोखे का जवाब हम अविश्वास प्रस्ताव के जरिये दे रहे हैं। आज यह साफ हो गया है कि अब उनका जाना तय है।
क्षेत्र पंचायत सदस्य विनय मिश्र ने कहा कि ठाकुर मनोज सिंह की मनमानी से सभी पीड़ित हैं। इसके कारण यह अविश्वास प्रस्ताव लाया जा रहा है। हम अपने क्षेत्र का विकास चाहते हैं कारण कि हमारी अपने गांव के प्रति कुछ जवाबदेही है। मनोज सिंह ने सभी सदस्यों के साथ धोखा किया है।
इस मौके अरविंद कुमार, अभिषेक विश्वकर्मा, रमेश चौरसिया, हंसू, इद्रजीत, नंदलाल, हरिभजन, पप्पू यादव, सुरेश, इंदल यादव, सुभाष विंद, संजय यादव, अजय, अनीता, महेंद्र राजभर, मोहन लाल, योगेश, रामजनम यादव, अब्दुल जब्बाद आदि 67 क्षेत्र पंचायत सदस्य मौजूद थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment