.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

सराहनीय! श्री गौरी शंकर मंदिर ट्रस्ट ने गरीब दलित कन्या का मंदिर में करवाया विवाह

मंदिर परिसर में पूरे वैदिक रीति-रिवाज़ से हुई शादी,खर्च भी ट्रस्ट द्वारा उठाया गया 
आजमगढ़। श्री गौरी शंकर मंदिर ट्रस्ट ने एक मिसाल प्रस्तुत किया । एक तरफ देश में कुछ जगहों पर जात पात, ऊंच नीच के नाम पर दलितों को मंदिर की सीढ़िया नहीं चढ़ने दी जाती वहीं इस ट्रस्ट ने गरीब दलित लड़की की शादी के लिए न केवल मंदिर का दरवाजा खोल दिया बल्कि शादी का खर्च भी ट्रस्ट द्वारा उठाया गया। जानकारी होने पर आसपास के लोग भी वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल हुए और वर वधू का आर्शीवाद देने के साथ ही उपहार भी भेंट किया।
फरिहा थाना क्षेत्र के परसहां गांव निवासी करिश्मा के पिता शिवशंकर राम की काफी पहले मौत हो चुकी थी। करिश्मा का पालन पोषण उसकी मां ने किसी तरह मेहनत मजदूरी कर के किया। उसके पास इतना पैसा नहीं था कि वह अपनी बेटी का हाथ पीला कर सके। करीब 20 दिन पूर्व वह एक समाजसेवी से बेटी की शादी में आ रही दिक्कत के बारे में वार्ता कर रही थी। इसी दौरान पूरे मामले की जानकारी श्री गौरी शंकर मंदिर ट्रस्ट के ट्रस्टी बाबू पुच्चा सिंह व कुसुमलता सिंह को हुई। उन्होंने तत्काल करिश्मा का विवाह करवाने का निर्णय लिया और उसकी मां से कहा कि वह शादी तय करे।
करिश्मा की शादी बद्दोपुर निवासी राजू गौतम के साथ तय हुई। शनिवार की शाम मंदिर परिसर में बारात पहुंची और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच विवाह संपन्न कराया गया। आसपास के लोगे भी वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल हुए और वर वधू को आर्शीवाद देने के साथ ही उपहार भेंट किया। ट्रस्ट द्वारा नव दंपति को गृहस्थी का आवश्यक सभी सामान उपहार स्वरूप दिया गया।
बाबू पुच्चा सिंह ने कहा कि श्री गौरीशंकर ट्रस्ट का उद्देश्य ही जरूरतमंदों की मदद करना है। विवाह से बेहतर नेक कार्य को दूसरा हो ही नहीं सकता। ट्रस्ट आगे भी ऐसे सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर सहयोग करेगा। इस तरीके के असहाय लोगों की जानकारी दें ताकि ट्रस्ट उनकी सेवा और मदद कर सके। आगामी समय में ट्रस्ट द्वारा सामूहिक विवाह कराया जाएगा। ताकि ज्यादा से ज्यादा गरीब कन्याओं का विवाह हो सके।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment