.

.

.

.

.

.

.

.
.

ग्राम पंचायत अधिकारी समन्वय समिति ने तीन सूत्रीय मांगो को ले दिया धरना


आजमगढ़ :: विकास भवन के समक्ष गुरुवार को ग्राम विकास अधिकारी एवं ग्राम पंचायत अधिकारी समन्वय समिति के नेतृत्व में तीन सूत्री मांगों को लेकर ग्राम पंचायत अधिकारियों के साथ ही ग्राम विकास अधिकारियों ने धरना-प्रदर्शन किया। इस दौरान शासन को मांग पूरी न होने पर प्रदेश व्यापी आंदोलन की चेतावनी दी।
समन्वय समिति के जिला अध्यक्ष शांतिशरण सिंह ने कहा कि समिति की प्रमुख रूप से ग्राम पंचायत अधिकारी एवं ग्राम्य विकास अधिकारी की शैक्षिक योग्यता इंटर के स्थान पर स्नातक करने, अधिमानी शैक्षिक योग्यता सीसीसी प्रमाण पत्र के स्थान पर ओलेबल डिग्री, प्रारंभिक मूल वेतन 29 हजार दो सौ रुपये और सीधी भर्ती के सापेक्ष प्रोन्नति पद कम से कम तीस फीसदी सृजित कर समय से 10 वर्ष,16 वर्ष और 26 वर्ष की सेवा पर प्रोन्नति और समय से प्रमोशन न देने की दशा में प्रोन्नति पद का वेतनमान शामिल है। उन्होंने कहा कि न्यूनतम वेतनमान 29 हजार सहित विभिन्न मांगों को पूरा होने तक लड़ाई जारी रहेगी।
समिति के कार्यकारी अध्यक्ष दुर्गा प्रसाद राय ने कहा कि आज ग्राम पंचायत अधिकारी, ग्राम विकास अधिकारी पंचायत स्तर पर लेखा संबंधी कार्य के साथ ही विभिन्न योजनाओं के लिए विकसित साफ्टवेयर पर तकनीकी कार्य, पंचायत स्तर पर बैठक,जन्म मृत्यु अंकन, शौचालय,प्रधानमंत्री आवास आदि का निर्माण कराते हैं। इसके बाद भी सफाई कर्मचारी के बराबर वेतन देकर न्याय नहीं किया जा रहा है।
धरने को समिति के महामंत्री रमेश शुक्ला, ग्राम पंचायत अधिकारी संघ के उपाध्यक्ष सुबाष शर्मा, वरिष्ठ उपाध्यक्ष अनिल कुमार, मनोज यादव, टीपी सिंह, सुनील सिंह, मानस राय,अमरजीत सिंह आदि ने संबोधित किया। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment