.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

योजनाओं में हो रहे निर्माण कार्य मानक के अनुरूप होने चाहिए-जिलाधिकारी




आजमगढ़ 05 फरवरी 2018 -- जिलाधिकारी चन्द्र भूषण सिंह ने निर्माण कार्यो की गुणवत्ता,समयबद्धता एवं परदर्शिता पर बल देते हुए कहा कि निर्माण कार्य मानक के अनुरूप होने चाहिए अन्यथा गड़बड़ी पाये जाने पर सम्बन्धित के विरूद्ध कठोरतम् कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी। उन्होनेे शासन द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल देते हुए कहा कि शासकीय योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुॅचे इसके लिए जन जागरूकता आवश्यक है।
उक्त निर्देश जिलाधिकारी ने कलेट्रेट सभागार मे आयोजित विकास कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा करते हुए दिए। इस अवसर पर उन्होने प्रधानमंत्री आवास योजना, नरेगा, स्वच्छता मिशन, राज्य वित्त एवं 14 वें वित्त, शौचालय, वृद्धावस्था पेंशन, जल निगम, कुषोषण ग्रस्त ग्राम, कृषि, कार्यदायी संस्थाओं द्वारा किए गये निर्माण कार्य, बिजली, सामूहिक विवाह योजना आदि बिन्दूओं पर विस्तार से चर्चा की गयी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि चिन्हित किए गये 10-10 गांवों में जाकर पंचायती राज विभाग की योजनाएं जो संचालित की गयी है जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना, मरनेगा, स्वचछता, राज्य वित्त एवं 14 वें वित्त है उसका निरीक्षण करे तथा समीक्षा रिपोर्ट तत्काल उपलब्ध कराना सुनिश्चित करंे। इसी क्रम में समस्त कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देशित करते हुए कहा कि सम्बन्धित विभागों के निर्माण कार्य हेतु जो पैसा लिया गया है लेकिन अभी तक निर्माण कार्य पूरा नही किया गया है तो तत्काल उसे पूर्ण कराना सुनिश्चित करें नही तो उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी जायेगी।
जिलाधिकारी ने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि समस्त ब्लाकों में एक-एक चारागाह 5 एकड़ की भूमि पर बनवाना सुनिश्चित करे जिसमें जानवरों के खड़ा होने की व्यवस्था, पानी पीने की व्यव्स्था आदि भी सुनिश्चित करंे। उन्होने कहा कि पैसे की कोई समस्या आ रही है तो 14 वें वित्त के धनराशि का प्रयोग करके बनवाना सुनिश्चित करें। इसी क्रम में जल निगम के अधि0 अभियन्ता को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रत्येक चारागाह में एक-एक हैण्ड पम्प सबमर्सिबल के साथ लगाना सुनिश्चित करें।
जिलाधिकारी ने 80 कुपोषितयुक्त ग्रामो को गोद लिए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि अपने द्वारा लिए गोद लिए हुए गावों का निरीक्षण करे। तथा निरीक्षण के दौरान यह भी सुनिश्चित करें कि कुपोषित युक्त ग्राम में शौचालय, स्वच्छता, राशन कार्ड, पुष्टाहार तथा मनरेगा से से सम्बन्धित महिलाओं को जाॅब कार्ड आदि जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ ग्रामीण जनता को मिल रहा है कि नही। तथा उन्होने कहा कि जो अधिकारी अपने द्वारा लिए हुए कुपोषितयुक्त ग्रामों का निरीक्षण नही किए है तो उनके विरूद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक सिंह, पीडी, डीडीओ, सम्बन्धित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी सहित समस्त खण्ड विकास अधिकारी उपस्थित रहे। 


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment