.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

मार्टीनगंज:नाराज ग्रामीणों ने डॉक्टर समेत टीकाकरण टीम को बैठाया, एसडीएम की पहल पर मामला सुलझा



मार्टीनगंज: आजमगढ़: तहसील क्षेत्र के चितारा महमुदपुर ग्राम पंचायत में मंगलवार को मिशन इंद्रधनुष कार्यक्रम के तहत टीकाकरण संचालित था और टीकाकरण एएनएम एवं आशा द्वारा किया जा रहा था।
गांव में अतीक के घर टीकाकरण न कराने पर समझाने के लिए एनम व आशा के साथ डॉक्टर भी घर में घुस गए। इसको लेकर गांव वालों में आक्रोश व्याप्त हो गया और पूरी स्वास्थ टीम के साथ सबको जबरन बैठा लिया गया । टीम के लोग एसडीएम के पहुंचने पर ही छूटे। तहसील क्षेत्र के दर्जनों गांव में मिशन इंद्रधनुष कार्यक्रम के तहत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को विरोध का सामना करना पड़ रहा है, आज मंगलवार को सुबह से ही एएनएम के नेतृत्व में मार्टिनगंज के ग्राम पंचायत चितारा महमूदपुर में आज टीकाकरण प्रस्तावित था जिसको लेकर के आशा घर-घर जाकर के लोगों सूचित कर रही थी कि इसी के तहत अतीक अहमद पुत्र एजाज अहमद उर्फ लड्डन के घर के बच्चों को भी टीका लगाने को कहा गया, टीका ना लगाने पर परिवार को समझाने के लिए डॉक्टर धनंजय पांडेय मौके पहुंच गए लेकिन वह आशा के साथ घर में घुस गए और किसी फोटोग्राफर द्वारा यह अपने कैमरे में कैद किये जाने लगा। यह देख गांव वाले भड़क गए और पूरी स्वास्थ्य टीम को बैठा लिए। सूचना पर उप जिलाधिकारी इन्द्रभान तिवारी, तहसीलदार मनीष कुमार, नायब तहसीलदार अरुण कुमार यादव, प्रभारी थाना अध्यक्ष दीदारगंज हरेंद्र प्रताप सिंह सहित कई अधिकारी मौके पहुंच गए और स्वास्थ्य टीम को मुक्त करा कर परिजनों को समझा कर बच्चों को टीका लगवाए। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि हम लोगों को किसी योजना के बारे में जानकारी नहीं दी जाती सिर्फ टीका लगाने के लिए कहा जाता है यहां तक कि टीका लगाने या उसके पहले आगनवाड़ी द्वारा पुष्टाहार भी नहीं दिया। जाता। निर्देश के बाद भी आंगनवाडी द्वारा जिसको टीका लगा उसको पुष्टाहार नहीं दिया गया है इसी सब शिकायत के चलते ग्रामवासी काफी आक्रोशित थे। लेकिन उप जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों के समझाने पर जहां टीका भी लगवाये और शुक्रवार को बैठक कर के पूरे गांव को टीकाकरण तथा अन्य संबंधित जानकारी के बारे में अवगत कराने के लिए कहा। उप जिलाधिकारी ने शुक्रवार को बैठक करके सरकारी योजनाओं तथा स्वास्थ्य संबंधित योजनाओं के बारे में जानकारी देने की बात कही। इस अवसर पर चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर संजय गुप्ता ,सुशील कुमार अस्थाना, राधेश्याम यादव विनोद यादव ,हरभजन, चंदशेखर यादव गांव के दर्जनों लोग उपस्थित थे। उपजिलाधिकारी इन्द्रभान तिवारी का कहना है कि बन्धक जैसी स्थिति नहीं थी , गलतफहमी के चलते सब हुआ है पूरे गांव के लोग जागरूक है ।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment