.

.

.

.

.

.

.

.
.

समाज सेवा की मिसाल बने लोगों को सम्मानित कर 'प्रयास' ने मानाया स्थापना दिवस

आजमगढ़: सामाजिक संगठन प्रयास का स्थापना दिवस स्वामी विवेकानन्द की जयंती पर हर्षोल्लास के साथ नेहरू हाल के सभागार में मनाया गया। स्थापना दिवस में वक्ताओं ने स्वामी विवेकानन्द की जयंती पर प्रकाश डालते हुए प्रयास के किए गये तमाम कार्यों की भूरि-भूरि प्रशंसा की। इस मौके पर अतिथियों द्वारा पत्रिका का भी विमोचन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता नगर पालिका अध्यक्ष शीला श्रीवास्तव व संचालन अतुल श्रीवास्तव ने किया।
स्थापना दिवस को संबोधित करते हुए अखिल भारतीय साधु संत के महामंत्री  स्वामी जितेन्द्रानन्द सरस्वती ने कहा कि सत्ता के शीर्ष पर बैठे लोगों को सोचना होगा कि सब कुछ के बावजूद सामाजिक संगठनां की जरूरत पड़ रही है। सामाजिक संगठन आज जिस तरह से समाज का भला कर रहे है वह सराहनीय है। शिनेका के डा मोहम्मद खालिद ने कहाकि आजमगढ़ जैसे शहर में प्रयास द्वारा किया गया प्रयास काबिले तारीफ है, मेरा तन मन धन प्रयास के साथ है।
वहीं डा0 अफजल अहमद व उमैर सिद्दकी ने संयुक्त रूप से प्रयास सामाजिक संगठन की सराहना की। संस्था के संरक्षक अखिलेश मणि शांडिल्य ने अपने विचारों से लोगों मंत्रमुग्ध कर दिया और लोगों ने जमकर तालियां बजाई। इस अवसर पर प्रयास द्वारा दिये गये पुरस्कारों में प्रथम उत्कृष्ट प्रयास पुरस्कार सरायमीर के परिषदीय विद्यालय के अध्यापक अभिमन्यु यादव को शिक्षा क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य के लिए मुख्य अतिथि एवं नगर पालिका परिषद अध्यक्ष श्रीमती शीला श्रीवास्तव द्वारा पुरस्कृत कर उन्हे शाल, स्मृति चिन्ह एवं सम्मान प्रपत्र दिया गया। द्वितीय पुरस्कार उत्तम प्रयास पुरस्कार चिकित्सा क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य करने के लिए संयुक्त रूप से फरिहा निवासी डा इमरान अहमद व डा डी पी सिंह को दिया गया। समाज सेवा के क्षेत्र में सर्वोत्तम कार्य करने के लिए संयुक्त रूप से शकील अहमद एव अनिल सिंह को सराहनी प्रयास पुरस्कार दिया गया। इसके अलावा बहुचर्चित मामला सोमरिया के बच्चों के पालन पोषण की जिम्मेदारी लेने वाले डा. इन्द्रराज प्रजापति तथा उनकी बहू का शाल व सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया। वहीं संस्था के अध्यक्ष रणजीत सिंह ने सभी आगन्तुकों का आभार जताते हुए कहाकि हमारी संस्था हाशिए पर जीवन यापन करने वालो, असहायों, गरीबों के लिए समर्पित है। उनके उत्थान के लिए संस्था हमेशा तैयार है। अन्य वक्ताओ में शिब्ली नेशनल कालेज के विभागाध्यक्ष क्रमशः डा जहूर आलम समाजशास्त्र, अरूण सिंह आदि ने अपने विचार-व्यक्त किये।
इस अवसर पर ई सुनील यादव, सीएल यादव, शमशाद, मिथलेश, डा हर गोविन्द विश्वकर्मा, विनीत सिंह रीशू, प्रवीण सिह, हर गोविन्द, पूनम, विवेक पाण्डेय, शिखा मौर्या, सुषमा श्रीवास्तव, घनश्याम मौर्या, जगदीश सिंह, राजू सिंह, शम्भू दयाल सोनकर, मेराज अहमद, अबुशाद, बाबूराम पार्थ आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे। संचालन अतुल श्रीवास्तव ने किया। 

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment