.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

विस्थापित कश्मीर सम्मेलन: कश्मीर की समस्या दिल्ली की देन, कश्मीर पूरे भारत के लोगों का है


आजमगढ़: राष्ट्रीय विचार मंच द्वारा विस्थापित कश्मीर विषय पर एक दिवसीय वैचारिक सम्मेलन शुक्रवार को रोडवेज स्थित हल्दीराम बैंक्वेट हॉल के सभागार में आयोजित हुआ। सम्मेलन का शुभारम्भ संयुक्त रूप से पूविवि के कुलपति प्रोफेसर राजाराम यादव, वरिष्ठ पत्रकार पुष्पेन्द्र कुलश्रेष्ठ व अरूण कुमार ने दीप प्रज्वलित कर किया ।
सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर के कुलपति प्रोफेसर डॉ राजाराम यादव ने कहा कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है दुनिया की कोई ताकत भारत से अलग नहीं कर सकती। विस्थापित कश्मीर की बात विश्वविद्यालय परिक्षेत्र में उठना राष्ट्रीय एकता की सोच को प्रदर्शित करता है। कश्मीर मुद्दे के लिए पूरे देश को एक जुट हो कर आवाज उठानी होगी। इस आवाज के सामने देश की विरोधी ताकतें हार जाएगी। उन्होंने कहा कि कश्मीर की समस्या से देश का बड़ा वर्ग अनभिज्ञ है। कश्मीर को भारत से जो लोग अलग करने की सोचते है आने वाले समय मे ऐसा वातावरण बन रहा है कि वो खुद दुनिया से अलग हो जायेगे। हमने असम की समस्या को दूर किया है आज जम्मू कश्मीर के लोगों को आभास करना होगा कि पूरा हिंदुस्तान उनके साथ है ।
इस अवसर पर प्रेस क्लब ऑफ इंडिया के पूर्व महासचिव वरिष्ठ पत्रकार पुष्पेन्द्र कुलश्रेष्ठ ने कहाकि कश्मीर की समस्या सिर्फ कश्मीर की नहीं है यह पुरे हिन्दुस्तान की समस्या है। भारत को टैक्स देने वालों का हिस्सा कश्मीर को मिलता है। इसी तरह आसाम से लेकर कन्या कुमारी तक जवान अपनी जान देकर कश्मीर की हिफाजत करता है। इसलिए कश्मीर आसाम से लेकर कन्याकुमारी तक के लोगों का है। उन्होने कहाकि कश्मीर की समस्या समाधान के लिए पाकिस्तानी आतंकवादियों से पहले इस देश में मौजूद बुद्धजीवी आतंकवादियों से लड़ना होगा। तब कश्मीर को हम बचा पाएंगे।
कश्मीर स्टडी के संयोजक अरूण कुमार ने कहाकि कश्मीर की समस्या पूरे जम्मू कश्मीर की समस्या नहीं है यह कश्मीर के मात्र 5 जिलों के अन्दर है। इसे बड़ा करने में पाकिस्तान से ज्यादा दिल्ली में 70 वर्षों से बैठे लोगों ने खड़ा किया है।
सम्मेलन में कश्मीर की खूबसूरती पर प्रदर्शिनी भी लगायी गयी थी । इस अवसर पर आये सभी आगन्तुकों का आभार राष्ट्रीय विचार मंच के संयोजक सिद्धार्थ सिंह ने जताया। संचालन डॉ कौशलेंद्र विक्रम मिश्र ने किया । इस अवसर पर डॉ कन्हैया सिंह, शतरुद्र प्रताप, डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ बद्री नाथ श्रीवास्तव, प्रवीण सिंह, डॉ माधुरी सिंह, डॉ दुर्गा प्रसाद अस्थाना, डॉ रवि प्रताप, डॉ सुभाष सिंह, ब्रजेश यादव, लीना मिश्र, पूनम सिंह समेत तमाम लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment