.

.

.

.
.

आजमगढ़: पुलिस ने पंजीकृत किए चार गिरोह,शामिल हैं एक दर्जन अपराधी


मतदान प्रक्रिया को सकुशल कराने की कवायद में होगी निगरानी

आजमगढ़ : लोकसभा चुनाव से पहले मतदान प्रक्रिया को सकुशल संपन्न कराने की कवायद में जुटी पुलिस ने अपने सारे तंत्रों को मजबूत करने के साथ ही आपराधिक गतिविधियों में सक्रिय अपराधियों की नकेल कसने में जुट गई है। इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने वाहन चोरी एवं शराब के अवैध कारोबार सहित संगठित गैंग बनाकर अपराध करने वाले चार गिरोहों के कुल 12 आरोपियों को पुलिस डायरी में सूचीबद्ध करते हुए इन गिरोहों को कोड नंबर आवंटित कर दिया है।
पुलिस के अनुसार अहरौला थाना क्षेत्र के तरकुलहा निवासी हरिश्चन्द्र यादव पुत्र रामजीत यादव के गैंग को भी जनपद स्तर पर आपराधिक गैंग के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। इसका कोड नंबर डी- 232 होगा। इस गैंग में शैलेश यादव निवासी तरकुलहा, अवधेश यादव उर्फ तुफानी यादव निवासी तरकुलहा व चन्द्रेश यादव उर्फ शोलू निवासी तरकुलहा शामिल हैं। वहीं अम्बेडकर नगर जिले के जैतपुर थाना क्षेत्र के करमुल्लापुर निवासी सतेन्द्र यादव उर्फ छोटू पुत्र रामचन्द्र यादव निवासी करमुल्लापुर गैंग को आपराधिक गैंग के रूप में सूचीबद्ध किया है। जिसका कोड नंबर डी- 231 होगा। इस गैंग में अनुप यादव उर्फ रितीक यादव निवासी जियरोपुर थाना अहरौला, स्पर्श उर्फ नन्हे पुत्र जगदीश प्रसाद निवासी शाहपुर चागौना थाना अहरौला, राहुल यादव निवासी करमुल्लापुर थाना जैतपुर शामिल हैं। इसी क्रम में सरायमीर थाना क्षेत्र के खानकाह निवासी आरोपित अमरजीत यादव उर्फ गुलाब यादव जो वर्तमान समय में एक संगठित गैंग बनाकर वाहन चोरी जैसे अपराध कारित कर रहा है। इनकी गतिविधियों पर प्रभावी अंकुश लगाये जाने के लिए इस गैंग को वाहन चोर गैंग के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। जिसका कोड नंबर डी- 229 होगा। इसके सदस्य सत्यवान उर्फ पिंटू गौतम निवासी पवई लाडपुर है। इसी क्रम में सरायमीर थाना क्षेत्र के आरोपी सर्वेश उर्फ सोनू जायसवाल के गैंग को भी शराब तस्कर के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। जिसका कोड नंबर डी- 230 होगा। इसके सक्रिय सहयोगी अमित यादव निवासी नसोरपुर थाना पवई शामिल हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment