.

.

.

.
.

आजमगढ़ मंडल मुख्यालय पर बनेगी 19 किमी लंबी रिंग रोड


प्रदेश सरकार ने 2023 में केंद्र सरकार को आठ मंडलों का भेजा था प्रस्ताव

सेमरहा से बिजरवा तक दो तहसीलों के 29 गांवों से गुजरेगी फोरलेन सड़क

आजमगढ़ : आजमगढ़ में 29 गांवों से होकर रिंग रोड बनाने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। कार्यदायी संस्था एनएचआइ के अधिकारी व कर्मचारी संबंधित गांवों में भूमि का चिह्नित कर सूची बना रहे हैं। यह रिंग रोड 19 किमी लंबी होगी।
उत्तर प्रदेश सरकार ने मंडल मुख्यालयों की यातायात व्यवस्था बेहतर बनाने के लिए रिंग रोड बनाए जान की आवश्यता महसूस की थी। इसके तहत प्रदेश के आठ मंडल मुख्यालय सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली, अलीगढ़, आजमगढ़, प्रयागराज, मीरजापुर और झांसी में रिंग रोड बनाने का प्रस्ताव जनवरी 2023 में ही केंद्र सरकार को प्रस्ताव भेजा गया था। वाराणसी वाया आजमगढ़-लुंबिनी एनएच-233 के समीप प्रयागराज-मुंगराबादशाहपुर-जौनपुर-आजमगढ़-दोहरीघाट मार्ग के अंतर्गत रानी की सराय के सेमरहा से बिजरवा के समीप पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे तक 19 किलोमीटर रिंग रोड बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचआइ) ने तहसील सदर और सगड़ी क्षेत्र के 29 गांवों का सर्वे पूरा कर लिया है। प्रस्तावित गांवों का राष्ट्रीय राजमार्ग अधिनियम-1956 के प्रावधानों के अनुसार गजट के लिए विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी (सक्षम अधिकारी भू-अर्जन) से राजस्व संबंधी अभिलेख खसरा, खतौनी और राजस्व नक्शा की मांग की है।
राज्य व केंद्र सरकार के शीर्ष अधिकारी कर रहे निगरानी
एनएचआइ के महाप्रबंधक तकनीकी सह परियोजना निदेशक श्रीप्रकाश पाठक ने विशेष भूमि अध्याप्ति अधिकारी को प्रेषित पत्र में मांग किया है कि महाकुंभ 2025 के आयोजन को देखते हुए प्रयागराज नगर एवं मेला क्षेत्र के आसपास के क्षेत्रों में चल रही परियोजनाओं की निगरानी राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों स्तर पर शीर्ष अधिकारी निरंतर कर रहे हैं क्योंकि इसे समयबद्ध पूर्ण किया जाना बहुत आवश्यक है।
प्रस्तावित रिंग रोड में ये गांव होंगे प्रभावित:
तहसील सदर में सेमरहा, खैरपुर जगजीवन, मोलनापुर माफी, ऊंचा गांव, तमौली, जिरिकपुर, अबूसईदपुर, सरायसादी, गौरडीह आइमा, गौरडीह खालसा, बेलनाडीह, चक दुबे, हेंगापुर, वजाहुद्दीनपुर, बिहरोजपुर, छित्तमपुर, बैठौली, शाहगढ़, दौलपुर, बद्दोपुर, अइनिया, लोहरइया, शेखपुरा, आहोपट्टी, चंदौका, कोठरा, उकरौड़ा सहित 28 गांव और तहसील सगड़ी का एक गांव बिजरवा शामिल है।
रिंग रोड बन जाने से यह होगा फायदा
सेमरहा से बिजरवा तक रिंग रोड बन जाने से वाराणसी, प्रयागराज, शाहगंज की तरफ दोहरीघाट, गोरखपुर और देवरिया जाने वालों वाहन शहर के पूर्वी छोर से बाहर-बाहर निकल जाएंगे। इन्हें शहर में आने की आवश्यकता नहीं होगी। वहीं, पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे से वाराणसी, प्रयागराज, जौनपुर, शाहगंज की तरफ जाने वाले लोगों का भी आवागमन सुलभ होगा।
उप जिलाधिकारी सदर ज्ञानचंद गुप्ता ने बताया
‘‘तहसील सदर में 28 और तहसील सगड़ी को एक गांव से होकर रिंग रोड बनना है। इसके सर्वे का कार्य चल रहा है। अभी विशेष भूमि अध्याप्ति कार्यालय से किसी अभिलेख के संबंध में पत्र नहीं आया है। जब मांगा जाएगा तो उपलब्ध करा दिया जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment