.

.

.

.
.

आजमगढ़: पिटाई से मौत में दो सिपाही किये गये लाइन हाजिर


विवाद में सिपाहियों द्वारा मारपीट का आरोप, परिजन बोले पुलिस की पिटाई से हुई मौत

आजमगढ़: दो पक्षों के विवाद में पुलिस की पिटाई से गंभीर व्यक्ति की उपचार के दौरान हुई मौत को लेकर बखेड़ा खड़ा हो गया। मामले पर प्रकाश हुए एसपी सिटी शैलेन्द्र लाल ने बताया कि थाना तरवां अंतर्गत दो पक्षों में विवाद व मारपीट हुई थी। परिजनों द्वारा घटना की जांच में लगे तरवां के दो आरक्षियों पर दुर्व्यवहार का आरोप लगाया गया है, जिनको तत्काल लाइन हाजिर कर विभागीय जांच की जा रही है। मृतक के परिजनों से तहरीर प्राप्त कर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट व साक्ष्यों के आधार पर कठोर अग्रिम विधिक कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी
बताते चलें कि तरवां थाना क्षेत्र के ठाटा ऊचहुंआ गांव निवासी एक युवक की एक पखवारा पूर्व पिटाई हुई थी। जिसके बाद से परिजन उसका इलाज करा रहे थे। रविवार की सुबह घायल की इलाज के दौरान राजकीय मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई। परिजन तरवां थाना पुलिस पर ही मारने-पीटने का आरोप लगा रहे हैं। इस बाबत एसपी को भी मृतक के पुत्र ने पत्रक दिया था।
परिजनों का आरोप है कि एक महिला की शिकायत पर पहुंची तरवां थाना पुलिस के सिपाहियों ने ही शोभनाथ की पिटाई की थी। थाने पर शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई तो एसपी को भी पीड़ित के पुत्र धीरज चौहान ने पत्रक दिया था। युवक की मौत के बाद परिजन शव लेकर घर चले गए। मौत की सूचना पर तरवां थाना पुलिस मृतक के घर पहुंची तो परिजन शव देने से इंकार कर दिया। परिजन पहले दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। इसके बाद मौके पर कई थानों की फोर्स के साथ ही सीओ हितेंद्र कृष्ण, एसडीएम लालगंज सुरेंद्र नाथ त्रिपाठी भी पहुंच गए। परिजनों को समझाने की कवायद चलती रही।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment