.

.

.

.
.

आजमगढ़ पब्लिक स्कूल में अंतराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस पर संगोष्ठी का हुआ आयोजन


ए0एम0यू0 ओल्ड ब्वॉयज एसोसिएशन के तत्वाधान में हुआ आयोजन

समाज में सकारात्मक संदेश देने को वैचारिक संवाद आवश्यक- मो0 नोमान, प्रबन्धक

आजमगढ़: 10 दिसंबर को आजमगढ़ पब्लिक स्कूल एवं ए0एम0यू0 ओल्ड ब्वॉयज एसोसिएशन के तत्वाधान में आजमगढ़ पब्लिक स्कूल के कॉन्फ्रेंस हॉल में एक संगोष्ठी का आयोजन हुआ। संगोष्ठी की अध्यक्षता हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉव जावेद अख्तर ने किया। मुख्य अतिथि मौलाना आज़ाद नेशनल उर्दू विश्वविद्यालय हैदराबाद के पूर्व कुलपति प्रो0 असलम परवेज़ रहे। डॉ0 शफीउज्जमा के नेतृत्व में विद्यालय के स्काउट/गाइड टीम की कलर पार्टी द्वारा स्काउटिंग की परंपरा के अनुसार स्कार्फ पहनाकर स्वागत किया गया। संगोष्ठी में विद्यालय के अध्यापक एवं बड़ी संख्या में छात्र एवं छात्राओं ने भाग लिया। कार्यक्रम की शुरुआत फरहान अहमद के तिलावते कलाम पाक से हुआ। तदोपरान्त मो0 नोमान एवं डॉ0 जावेद अख्तर ने संयुक्त रूप से मुख्य अतिथि को प्रतीक स्वरूप एक व्यक्ति एक वृक्ष के तहत वृक्ष देकर सम्मानित किया। विद्यालय के प्रबंधक मो0 नोमान ने मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए गोष्ठी का विषय परिवर्तन करते हुए कहा कि समाज में सकारात्मक संदेश देने के लिए इस तरह का वैचारिक संवाद होना अति आवश्यक है।
मुख्य अतिथि प्रो0 असलम परवेज़ ने अपने संबोधन में कहा कि ‘हमें कुरान क्यों पढ़ना चाहिए एवं समझ कर पढ़ना चाहिए।’ उन्होंने जोर देते हुए कहा कि कुरान सिर्फ मुसलमानों की किताब नहीं है बल्कि कुरान यह कहता है कि किसी के ईश्वर को तुम बुरा न कहा करो, एहसान का तारीक अपनाओ क्यों कि ईश्वर एहसान करने वालों को पसंद करता है। इस अवसर पर विद्यालय में संचालित अपसरा नीट कोचिंग के निदेशक डॉ0 ग्यास असद खां, डॉ0 मिर्जा जीशान बेग, अबुसाद अहमद खां, मुनव्वर हुसैन खां, डॉ0 अमीर आलम, डॉ0 जरार अहमद, डॉ0 मो0 आसिफ, मो0 असलम एडवोकेट, सुहेल अहमद, कुरबान शेख, मो0 शाहिद, सुप्रिया मिश्रा, रूना खां उप प्रधानाचार्या आदि की उपस्थिति सराहनीय रही। धन्यवाद ज्ञापन विद्यालय की प्रधानाचार्या रूपल पांडिया ने दिया। कार्यक्रम का सफल संचालन शेख महफूज़ अहमद ने किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment