.

.

.

.
.

आजमगढ़: साहित्य, कला व संस्कृति से मिलेगी समाज को दिशा- कुलपति


प्रतिभाओं को निखारने का काम करेगा कला एवं संस्कृति केंद्र-निरहुआ

कुलपति व सांसद ने किया कला एवं संस्कृति केंद्र का लोकार्पण

आजमगढ़: नगर के नरौली स्थित कला एवं संस्कृति केंद्र का लोकार्पण महाराजा सुहेलदेव राज विश्वविद्यालय कुलपति प्रोफेसर प्रदीप कुमार शर्मा व सांसद, भोजपुरी अभिनेता दिनेश लाल निरहुआ द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इसके पूर्व दोनों अतिथिद्वय का जोरदार स्वागत केंद्र की प्रबंधक अरुणिमा सिंह, डा खुशबू सिंह, एड शत्रुध्न सिंह, शिवपूजन सिंह, प्रमोद सिंह, विश्वविद्यालय के सांस्कृतिक सचिव डा प्रवेश सिंह द्वारा किया गया। कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ दीप प्रज्जवलन व श्री गणेश वंदना से हुआ, इसके बाद एक से बढ़कर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों ने सभी को मन मोह लिया। लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि  कुलपति प्रोफेसर प्रदीप कुमार शर्मा ने कहाकि संस्कृति और कला केंद्र के खुलने से जिले की एक मूलभूत आवश्यकता की पूर्ति हुई है। साहित्य, कला व संस्कृति तीनों एक दूसरे के पूरक है इनके संवर्द्धन की नींव रखने वाले डा प्रवेश सिंह और अरूणिमा सिंह का प्रयास बेहद सार्थक है। ऐसे सोच रखने वाले समाज के लिए नजीर है। उन्होंने पूर्ण विश्वास जताते हुए कहाकि कला एवं संस्कृति केंद्र के खुलने से जनपद के बुद्धिजीवी वर्ग एवं कला प्रेमी, विश्वविद्यालय के विद्यार्थी इस संस्था से जुड़कर लाभ उठाएंगे और आजमगढ़ की इस ऊर्जावान भूमि का नाम रोशन करते हुए कला और संस्कृति की बंयार को तेज करेंगे।

भोजपुरी फिल्म सुपरस्टार व सदर सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ ने कहा कि यह संस्था आजमगढ़ के लिए मिल का पत्थर साबित होगी क्योंकि इस तरह की संस्थाएं समाज में सकारात्मक संदेश देती है। कला, केंद्र संस्कृति के जरिए अब आजमगढ़ के ऊर्जा का सद्पयोग होगा। कला एवं संस्कृति का पुजारी देव तुल्य होता है। सांसद ने आयोजन के लिए कला एवं संस्कृति संस्था के सभी सदस्यों का उत्साह वर्धन किया। सांसद ने कोरियोग्राफर अभय सर एवं निमिषा सिंह को बधाई देते हुए कहा कि कला के उत्थान के लिए केंद्र को हर तरह का सहयोग दिया जाएगा और आवश्यक हुआ तो स्वयं रिहर्सल व प्रैक्टिस करने आऊंगा। उन्होंने अभय सर के कुशल निर्देशन को भी सराहते हुए कला एवं संस्कृति केंद्र का लाभ उठाने के लिए आह्वान किया।
आगंतुकों का आभार प्रकट करते हुए संस्था की प्रबंधक अरुणिमा सिंह, कोरियोग्राफर अभय व कुमारी निमिषा सिंह ने बताया कि संस्था में हर विधा के नृत्य जुंबा फिटनेस के साथ-साथ प्रयाग संगीत कला केंद्र की तरफ से तबला, गिटार, कैसियो, सारंगी आदि की कार्यशालाएं भी संचालित होगी। उच्च कोटि के कलाकारों द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा एवं डिप्लोमा की डिग्री प्राइस दी जाएगी। संचालन सुनील दत्त विश्वकर्मा ने किया।
इस अवसर पर प्रेमप्रकाश राय, चंडिका नन्दन सिंह, जयनाथ सिंह, श्री दुर्गाजी पीजी कालेज चंडेश्वर के प्राचार्य नागेन्द्र द्विवेदी, श्री अग्रसेन पीजी कालेज की प्राचार्या जुही शुक्ला, डा० अविनाश सिंह, महेन्द्र सिंह सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment