.

.

.

.

.

.
.

सांसद निरहुआ के खिलाफ अदालत में दिया प्रार्थना पत्र


चंदौली की जनसभा में दिया था विवादित बयान

वाराणसी : चंदौली जनपद की जनसभा में आजमगढ़ के सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ की ओर से दिए गए बयान को विवादित व अमर्यादित बताते हुए उनके खिलाफ अदालत में प्रार्थना पत्र दिया गया है। एमपी-एमएलए कोर्ट/एसीजेएम पंचम उज्ज्वल उपाध्याय की अदालत में दाखिल अर्जी पर प्रकीर्ण वाद के रूप में दर्ज करते हुए अगली सुनवाई चार नवंबर की तिथि नियत कर दी।
प्रकरण के अनुसार चौबेपुर के छितौना गांव निवासी सुनील यादव ने अपने अधिवक्ता ओमप्रकाश यादव के जरिये अदालत में परिवाद दाखिल किया है। परिवाद में आरोप लगाया गया है कि आजमगढ़ के सांसद दिनेश लाल यादव निरहुआ बीते 25 अक्टूबर को चंदौली जनपद में एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे।
इस दौरान सासंद ने खुले मंच से लोगों को संबोधित करते हुए विवादित व अमर्यादित बयानबाजी करके यादव समाज को बांटने की कोशिश की। सांसद के इस बयान से देश-विदेश में रहने वाले यादव समाज के लोगों की भावनाओ को ठेस पहुंची है। वहीं सासंद के इस बयान के बाद समाज के अन्य लोगों द्वारा टिप्पणी की जा रही हैं। इससे यादव जाति के लोग मर्माहत हैं। अदालत से सांसद के कृत्य को गैर जिम्मेदाराना बताते हुए अदालत में तलब कर दंडित किये जाने की मांग की गई है।


Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment