.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ जेल में मोबाइल बरामदगी के मामले में चार अज्ञात पर मुकदमा दर्ज


जेलर ने प्रशासन को भेजी रिपोर्ट,10 बंदियों का हो सकता है जेल ट्रांसफर

आजमगढ़: जेल में दो दिन पूर्व हंगामा करने वाले बंदियों पर कारवाई के लिए जेलर की ओर से जांच के बाद प्रशासन को रिपोर्ट भेज दी गई है। इस बाबत जेलर ने बताया कि जेल की तलाशी के दौरान बंदियों ने काफी बवाल किया था। वहीं जांच के दौरान चार मोबाइल फोन भी जांच में बरामद किया गया था।
आजमगढ़ मंडलीय कारागार में सघन तलाशी के दौरान चार मोबाइल की बरामदगी के मामले में सिधारी पुलिस ने मंगलवार को मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। उधर, जेलर ने बवाल काटने वाले बंदियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए रिपोर्ट प्रशासन को सोमवार को भेजी है। उम्मीद जताई जा रही है कि हंगामा करने वाले 10 बंदियों को जल्द ही प्रशासनिक आधार पर जेल ट्रांसफर किया जा सकता है।
20 नवंबर को मंडलीय कारागार में जेलर के नेतृत्व में सघन तलाशी अभियान चलाया गया था। इस दौरान चार मोबाइल बरामद हुए थे। जेल प्रशासन की इस कार्रवाई पर बंदियों ने जमकर बवाल काटा था। बंदियों को एकजुट देख जेल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी थी। एसपी सिटी शैलेंद्र लाल के नेतृत्व में कई थानों की फोर्स मौके पर पहुंची और बंदियों को समझाते हुए बवाल को शांत किया। छह बंदियों को अलग बैरक में रखा गया।
बंदियों के इस व्यवहार पर जेल प्रशासन ने सख्त रुख अख्तियार किया है। उपद्रव करने वाले बंदियों को चिह्नित कर उनकी रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेज दी है। जेलर विकास कटियार ने बताया कि एक मोबाइल जमीन में गाड़ा गया था, जबकि तीन दीवारों के ज्वाइंटर में छिपाए गए थे। सिधारी एसओ इंस्पेक्टर नंद कुमार तिवारी ने बताया कि जेलर की तहरीर पर चार अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। जेल के अंदर मोबाइल कैसे पहुंचा व किसका है, यह पता किया जा रहा है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment