.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: धान खरीद हेतु किसानों का सत्यापन शीघ्र पूरा करायें -मंडलायुक्त


जिन मिलरों ने गबन किया है उनकी सम्पत्ति की नीलामी शीघ्र करायेंः मण्डलायुक्त

आज़मगढ़ 18 अक्टूबर - मण्डलायुक्त मनीष चौहान ने कहा है कि मण्डल के जनपदों में धान की खरीद समय से अनिवार्य रूप से शुरू हो जाये तथा लक्ष्य के सापेक्ष्य धान खरीद सुनिश्चित करने की सारी व्यवस्थायें तत्काल पूरी कर ली जायें। मण्डलायुक्त श्री चौहान मंगलवार को अपने कार्यालय सभागार में खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में धान खरीद की तैयारियों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने मण्डल के जनपदों में पंजीकृत किसानों के सत्यापन की तहसीलवार समीक्षा करते हुए कहा कि जनपद आज़मगढ़ में 4718, मऊ में 1699 एवं बलिया में 3258 पंजीकृत किसानों के सापेक्ष अभी तक किसानों का सत्यापन बहुत कम हुआ है। उन्होंने तीनों जनपद जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि किसानों का सत्यापन शीघ्र पूरा करायें। मिलों के कम सत्यापन के सम्बन्ध में अवगत कराया गया कि वर्तमान व्यवस्था के तहत मिल जिस जमीन पर स्थापित है वह मिल मालिक के नाम होनी चाहिए, इसलिए मिलों के सत्यापन एवं उसकी सम्बद्धता की कार्यवाही में विलम्ब हो रहा है। मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि धान की खरीद शुरू होने पूर्व ही मिलों का सत्यापन एवं उसकी सम्बद्धता की कार्यवाही पूर्ण कर ली जाय। उन्होंने जिलाधिकारियों से कहा कि शीघ्र ही मिलरों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं का निराकरण करायें तथा उनसे जो भी औपचारिकतायें पूर्ण करानी हैं उसे पूर्ण कराने हेतु निर्देशित करें। उन्होंने यह भी कहा कि गत वर्षों का जनपद आजमगढ़ में 12 करोड़, मऊ में 10 करोड़ एवं बलिया में 32 करोड़ का सीएमआर बकाया है, जिसमें निर्गत आरसी की वसूली ठीक नहीं है। उन्होंने इस ओर विशेष ध्यान देकर वसूली सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। श्री चौहान ने निर्देश दिया कि जिन मिलरों द्वारा सीएमआर का गबन कर लिया गया है उनकी सम्पत्ति नीलामी की कार्यवाही शीघ्र करायें।
बैठक में धान खरीद हेतु क्रय केन्द्रों के स्थापना के सम्बन्ध में संभागीय खाद्य नियन्त्रक द्वारा बताया गया कि खाद्य विभाग, एफपीसी, पंजीकृत सहकारी समितियॉं, पीसीएफ आदि क्रय एजेन्सियों के आज़मगढ़ में कुल 66, मऊ एवं बलिया में 44-44 धान क्रय केन्द्र अनुमोदित हैं। यह भी बताया गया कि गत वर्ष मण्डी समिति द्वारा बलिया में 12 एवं मऊ में 1 क्रय केन्द्र स्थापित किये गये थे, परन्तु इस वर्ष मण्डी समिति द्वारा कोई क्रय केन्द्र स्थापित नहीं किया जा रहा है। यदि मण्डी समिति द्वारा केन्द्र स्थापित नहीं किया जायेगा तो जनपद बलिया में धान की खरीद काफी प्रभावित होगी, जबकि सबसे अधिक धान खरीद बलिया में की जाती है। मण्डलायुक्त श्री चौहान ने कहा कि मण्डी समिति द्वारा बलिया में क्रय केन्द्र स्थापित कराये जाने के सम्बन्ध में निर्देश निर्गत कराये जाने हेतु उच्च स्तर पर पत्राचार किया जाय।
बैठक में जिलाधिकारी आज़मगढ़ विशाल भारद्वाज, जिलाधिकारी मऊ अरुण कुमार, जिलाधिकारी बलिया सौम्या अग्रवाल, अपर आयुक्त (न्यायिक) हंसराज, सीडीओ आज़मगढ़ आनन्द कुमार शुक्ला, सीडीओ मऊ प्रशान्त नागर, सीडीओ बलिया प्रवीण कुमार वर्मा, संभागीय खाद्य नियन्त्रक राम मूर्ति पाण्डेय एवं अन्य समबन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment