.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: डीजी स्तर्कता यूपीपीसीएल ने विद्युत थाने का किया निरीक्षण



आजमगढ़ में दर्ज हुई 2100 एफआईआर,लाइन लॉस वाले स्थानों की समीक्षा की जाएगी

किसानों के ट्यूबवेल पर फिक्स चार्ज होता है मीटर केवल पावर मापने को होता है - सत्य नारायण साबत

आजमगढ़: सिधारी स्थित विद्युत चोरी निरोधक पुलिस थाना में महानिदेशक सतर्कता प्रवर्तन उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लिमिटेड सत्य नारायण साबत शनिवार को पहुंचे। उनका गार्ड ऑफ ऑनर पेश कर स्वागत किया गया। वहीं महानिदेशक ने थाने में दर्ज रिकॉर्ड की चेकिंग किया । मंडल के तीनों जनपदों आजमगढ़, मऊ व बलिया में विद्युत चोरी के कितने मामले दर्ज हुए कितने पर कार्रवाई हुई इसकी समीक्षा की। उन्होंने बताया कि आजमगढ़ में इस वर्ष 21 सौ मामले दर्ज किए गए जबकि प्रदेश भर में एक लाख सत्तर हजार मामले दर्ज किए गए। उन्होंने बताया कि जिस स्थान पर लाइन लॉस ज्यादा है वहां की समीक्षा की जाएगी और पूरा प्रयास किया जायेगा कि इसे कम से कम रखा जाए। वहीं किसानों के ट्यूबवेल के बिल को लेकर भ्रांति पर भी प्रकाश डाला। कहा कि उसका फिक्स्ड चार्ज होता है लेकिन मीटर इसलिए लगाया जाता है ताकि कितना पॉवर इस्तेमाल हो रहा है इसका आकलन किया जाए। इसलिए इसमें ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। सबसे बड़ी चुनौती जो ऑर्गेनाइज्ड बड़े पैमाने पर लाइन की चोरी होती है उसको रोकना है। ज्यादा से ज्यादा आम उपभोक्ताओं को बिल के दायरे में लाना है ताकि जो लोग पेमेंट कर रहे इनको बेहतर सेवा मिल सके।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment