.

.

.

.

.

.
.

मऊ: राजभर बस्ती में लगा ओमप्रकाश राजभर की नो-इंट्री का पोस्टर व बैनर


सुभासपा छोड़ चुके लोगों ने बस्ती में आना मना है के पोस्टर लगाए

मऊ: लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटे सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के मुखिया ओमप्रकाश राजभर की पूर्वांचल में मुश्किल कम होने का नाम नहीं ले रही है। एक तरफ जहां पार्टी के नेता जहां बागी रुख अख्तियार कर पार्टी छोड़ रहे है तो अब उनका बेस वोट राजभर अब ओपी राजभर से दूर होता दिख रहा है। मऊ जिले के कोपागंज व आसपास के गांवों में ओमप्रकाश राजभर के खिलाफ पोस्टर लगाए गए हैं, जिनमें ओमप्रकाश राजभर के गांव में घुसने पर पाबंदी का जिक्र किया गया है। पोस्टर व बैनरों में लिखा है कि ओमप्रकाश राजभर का राजभर बस्ती में आना-जाना मना है। गांव के लोगों का दावा है कि ओमप्रकाश राजभर लगभग दो दशक से अपने समाज को ठगने का काम कर रहे हैं। वह अपने परिवार के लिए हमारे समाज की भावनाओं को उकसाकर रैली में बुलाकर भीड़ दिखाते हैं। उसके बाद खुद और अपने बेटे के अलावा सारे टिकटों को बेच देते हैं। लखमीपुर गांव में ओमप्रकाश के विरोध में सर्वाधिक पोस्टर लगाए गए हैं। इस गांव के ज्यादातर लोग सुभासपा से जुड़े हुए हैं। इनका कहना है कि हमारे राजभर समाज की बहन-बेटियां ट्रैक्टर ट्रॉली और अन्य वाहनों में भरकर ओम प्रकाश राजभर की रैली में जाती हैं, जिसका प्रभाव दिखाकर ओपी राजभर दूसरे दलों से गठबंधन कर लेते हैं। उनसे सीट लेकर उसका सौदा करते हैं। सिर्फ पिता पुत्र चुनाव लड़ते हैं। बाकी कार्यकर्ता ठगे जाते हैं।
बता दें कि ओमप्रकाश राजभर बिहार की राजधानी पटना में 26 सितंबर को होने वाली सावधान यात्रा को लेकर शुक्रवार को मऊ के हिंदी भवन में पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने के लिए पहुंचे थे। बैठक के बाद उन्हें घोसी क्षेत्र के कई गांवों में दौरा करना है।
बता दें कि ओमप्रकाश राजभर बिहार की राजधानी पटना में 26 सितंबर को होने वाली सावधान यात्रा को लेकर शुक्रवार को मऊ के हिंदी भवन में पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने के लिए पहुंचे हैं। बैठक के बाद उन्हें घोसी क्षेत्र के कई गांवों में दौरा करना है। उनके दौरे का विरोध करते हुए राजभर बाहुल्य गांव लखीमपुर में ये पोस्टर लगाए गए हैं। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी छोड़ चुके कार्यकर्ताओं ने ओमप्रकाश राजभर का राजभर बस्ती में आना मना है के पोस्टर लगाए हैं। इस सबंध में पार्टी के बागी नेता महेंद्र राजभर का कहना है कि सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर निजी स्वार्थ में पार्टी के मिशन से भटक चुके हैं। वे व्यक्तिगत मिशन के तहत धन बटोरने के चक्कर में लगे हुए हैं। ऐसे नेता के साथ रहना देश के साथ खिलवाड़ करना है। राजभर समाज को इस बात का एहसास हो चुका है। यहीं वजह है कि अब आम आदमी ने विरोध शुरू कर दिया है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment