.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: जिले में बिना मान्यता प्राप्त मदरसों की जांच को टीम गठित


एसडीएम के नेतृत्व में बीएसए व अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी करेंगे कार्रवाई

गांववार लेखपाल मदरसों की करेंगे सूची के हिसाब से पड़ताल

आजमगढ़: शासन के निर्देश पर जिले में बिना मान्यता प्राप्त संचालित हो रहे मदरसों शिकंजा कसने की तैयारी पूरी हो गई है। डीएम विशाल भारद्वाज ने तहसीलवार गठित टीम अधिकारियों की तैनाती सुनिश्चित कर दी है। इस कार्य में संबंधित तहसीलों के लेखपालों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग की तरफ से सभी एसडीएम काे कार्रवाई के संबंध में पत्र प्रेषित किया जा चुका है। कार्रवाई की रिपोर्ट 25 अक्टूबर तक निदेशालय अल्पसंख्यक कल्याण विभाग भेज देनी है।
जनपद में कुल 387 मान्यता प्राप्त मदरसे हैं। जिसमें 255 आधुनिकीकरण योजना और 20 अनुदानित मदरसा शामिल हैं। इसके अलावा बिना मान्यता प्राप्त संचालित मदरसों की जांच की जानी है। जिसके लिए जिले की आठ तहसीलों में एसडीए के नेतृत्व में टीम गठित की गई है। एक टीम में बीएसए या उनके नामित अधिकारी और जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी(डीएमडब्ल्यूओ) या उनके नामित अधिकारी शामिल किए गए हैं। जांच प्रक्रिया में संबंधित गांवों के लेखपालोें को भी जिम्मेदारी दी जाएगी। जिसके लिए जिला अल्संख्यक कल्याण विभाग मान्यता प्राप्त मदरसों की सूची एसडीएम को भेजी जाएगी, जिसके आधार पर संबंधित गांवों की पड़ताल की जाएगी। सूची के अलावा मिले मदरसों बिना मान्यता प्राप्त मानें जाएंगे, जिनके विरुद्ध कार्रवाई के लिए चिह्नित मदरसों की सूची निदेशालय भेजी जाएगी।
मनोज कुमार राय, वक्फ निरीक्षक ने बताया कि बिना मान्यता प्राप्त मदरसों की जांच के लिए डीएम की तरफ से टीम गठित कर दी गई है। सभी एसडीएम को मान्यता प्राप्त मदरसों की सूची प्रेषित की जा चुकी है। जल्द ही कार्रवाई शुरू हो जाएगी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment