.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: मुठभेड़ में पिता के हत्यारे पुत्र को लगी गोली


असलहा बरामदगी के दौरान पुलिस पर किया फायर, तमंचा व कारतूस बरामद

आजमगढ़: बरदह पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान निर्मम हत्या के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। मुठभेड़ के दौरान अभियुक्त के दायें पैर में गोली लगी है। पुलिस द्वारा उसे उपचार हेतु सीएचसी बरदह भेजा गया, जहां से डाक्टरों द्वारा उसे सदर अस्पताल रेफर किया गया। मौके से तमंचा व कारतूस बरामद किया गया है।
बताते चलें कि बालकिशन सरोज उम्र 52 वर्ष निवासी जिवली थाना बरदह राजगीर का काम करता था। घर से 500 मीटर की दूरी पर उसका दूसरा मकान है। 17 अगस्त की रात करीब 9 बजे बालकिशुन अपने बेटे के लिए खाना लेकर दूसरे मकान पर गया। किसी बात को लेकर दोनोें के बीच विवाद हो गया। इस दौरान नशे में धुत बेटे ने बालकिशुन के सिर पर पत्थर से प्रहार कर उसकी निर्मम हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया। मृतका की पत्नी इसरावती ने इस बावत बरदह थाने में मुकदमा दर्ज कराया था।
थाना प्रभारी निरीक्षक संजय सिंह को मुखबिर से सूचना मिली कि मामले में अभियुक्त बबलू पुत्र बालकिशुन जिवली तिराहे पर मौजूद है जो कहीं भागने की फिराक में है। सूचना पर संजय सिह प्रभारी निरीक्षक, शमशेर यादव निरीक्षक व सतीश यादव उप निरीक्ष मय हमराहियों के साथ जिवली तिराहे से अभियुक्त को समय 3.30 बजे गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गये अभियुक्त बबलू को हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद करने के लिए अभियुक्त द्वारा बताये गये स्थान पर ले जाया गया, जहां अभियुक्त द्वारा छिपाये गये लोडेड तमंचे से पुलिस टीम पर फायर झोंक दिया गया। आत्मरक्षार्थ पुलिस द्वारा चलाई गोली में वह घायल हो गया। पुलिस ने उसे 7.20 बजे अपने हिरासत में लेकर उपचार हेतु सीएचसी बरदह ले गई, जहां से डाक्टरों द्वारा सदर अस्पताल रेफर किया गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment