.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: विदेश में फंसा पिता का शव, बेटे ने लगाई गृहमंत्री से गुहार


पुत्र ने कहा शव वापस देने के लिए मांगे जा रहे चार लाख रुपए

आजमगढ़: परिवार की माली हालत सुंदृढ़ करने के लिए विदेश कमाने गए व्यक्ति की बीते 7 अगस्त को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। कंपनी के मालिक ने परिजनों को शव की सुपुर्दगी के लिए चार लाख रुपए की मांग कर सभी को बेचैन कर दिया है। विदेश से पिता के शव को लाने के लिए मृतक के पुत्र ने केन्द्रीय गृहमंत्री को पत्र भेजकर न्याय की गुहार लगाई है। जनपद के सगड़ी तहसील अंतर्गत पहाड़पुर ग्राम निवासी अवनीश यादव के अनुसार उसके पिता चंद्रजीत यादव पुत्र सत्यदेव यादव खाड़ी देश सऊदी अरब की हफर अल बातिन में अब्दुल्ला नामक कंपनी मालिक के यहां काम करते थे। अवनीश का कहना है कि बीते 7 अगस्त को कंपनी में कार्य करते समय उसके पिता चंद्रजीत यादव की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। कंपनी मालिक के अनुसार मृतक चंद्रजीत यादव ने कार्यस्थल पर फांसी लगाकर अपनी जान दे दिया था । अब शव कंपनी मालिक के कब्जे में है । अवनीश का कहना है कि विदेश से पिता के शव को घर भेजने के एवज में कंपनी मालिक द्वारा चार लाख रुपए की मांग की जा रही है। इस बात ने पूरे परिवार को परेशान कर दिया है। अवनीश का कहना है कि दो भाई और दो बहनों के साथ माता और बुजुर्ग दादा- दादी के भरण-पोषण की जिम्मेदारी मेरे पिता के कंधों पर थी। उनके निधन के बाद हमारे परिवार पर मानो वज्रपात हो गया है । ऐसे में गरीबी का जीवन जी रहा हमारा परिवार कहां से इतनी भारी रकम जुटा पाएगा, जिससे हम अपने पिता के शव को घर लाकर उनका अंतिम संस्कार कर सकें। इस संबंध में मृतक के पुत्र अवनीश यादव ने केंद्रीय गृह मंत्री को पत्र भेजकर संदिग्ध हाल में हुई पिता की मौत के मामले की जांच करा कर न्याय दिलाने एवं दिवंगत पिता के शव को परिजनों के सुपुर्द करने की मांग उठाई है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment