.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: चुनावी रंजिश में पूर्व शिक्षा मित्र को मारी गोली,भर्ती


ठेकमा बाजार जाते समय बाइक सवारों ने किया हमला

पहली गोली से बचे तो दूसरी उनके बाएं हाथ में जा लगी

आजमगढ़: ग्राम प्रधान के चुनावी रंजिश में शुक्रवार को बाइक सवारों ने पूर्व शिक्षा मित्र को गोली मार दी। गोली बाएं हाथ में लगने से गंभीर रूप से घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डाक्टर ने उनकी हालत फिलहाल खतरे से बाहर बताई है। पीड़ित के स्वजन ने दो आरोपितों के खिलाफ नामजद तहरीर दी है। इसहाकपुर गांव निवासी आद्या प्रसाद राजभर पूर्व शिक्षा मित्र हैं। उनके परिवार का गांव के ही एक यादव परिवार से ग्राम प्रधान के चुनाव को लेकर रंजिश चल रही है। आद्या प्रत्याशी शबाना की चुनाव में मदद कर रहे थे। वह चुनाव जीत भी गईं जिसके बाद प्रधान पद के दूसरे प्रत्याशी से अदावत शुरू हो गई। आद्या दोपहर में करीब एक बजे बाइक से दवा लेने के लिए मैनपुर होकर ठेकमा बाजार जा रहे थे कि बाइक सवारों ने दो बार फायरिंग की। पहली गोली से बचे तो दूसरी उनके बाएं हाथ में जा लगी। हमलावर गोली चलाने के बाद भाग निकले। ग्रामीणों ने बताया कि प्रधानी चुनाव के दूसरे दिन विजय जुलूस निकाला गया था और उस दौरान गोली चलने से एक युवती की मौत हो गई थी। उसमें आद्या समेत आठ लोगों को जेल भेजा गया था। आद्या पर गैंगस्टर भी लगा था। आरोपितों में तीन लोग 17 दिन पहले जमानत पर छूटकर आए थे।
आद्या प्रसाद राजभर की पत्नी विद्या ने बताया कि सुबह से ही कुछ लोग घर की रेकी कर रहे थे। आद्या प्रसाद को टाइफाइड है जिसके लिए वह दवा लेने के लिए ठेकमा बाजार जाने के लिए घर से निकले थे। घटनास्थल से गुजर रहे एक आटो रिक्शा चालक की नजर पड़ी तो उसने आद्या प्रसाद के मोबाइल से किसी को फोन किया जिसके बाद स्वजन को घटना की जानकारी हो सकी।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment