.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: राज्य मंत्री ने मंडलीय जिला अस्पताल में परखी व्यवस्थाएं



राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष डा. देवेंद्र शर्मा ने मरीजों से दवा व खान पान की जानकारी ली

आजमगढ़: राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष (राज्यमंत्री स्तर) डा. देवेंद्र शर्मा ने गुरुवार को मंडलीय जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। मंत्री ने निरीक्षण के दौरान मरीजों से बातचीत कर व्यवस्था की जानकारी ली। कुपोषण वार्ड के रसोइयादार से कोकोनट आयल में भोजन बनाने के निर्देश दिए।
उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष ने इमरजेंसी वार्ड, ओपीडी, महिला वार्ड, एआरटी सेंटर एवं पीकू वार्ड का निरीक्षण किया। मरीजों से खानपान, दवा इत्यादि की जानकारी ली। हालांकि किसी मरीज या तीमारदार ने किसी प्रकार की कोई शिकायत नहीं की तो अस्पताल प्रशासन ने थोड़ी राहत की सांस ली। पीआइसीयू वार्ड में जब गए तो पहले ही उन्होंने ड्यूटी पर तैनात स्वाथ्यकर्मियों से डाक्टर के बारे में पूछा तो किसी ने यह नहीं बताया कि किस डाक्टर की ड्यूटी है। एसआइसी को भी नहीं पता था कि कौन डाक्टर ड्यूटी पर मौजूद हैं। इसके लिए उन्होंने एसआइसी को निर्देशित करते हुए कहा कि ड्यूटी से गायब रहने वाले डाक्टर पर कार्रवाई करें। इसके बाद सीधे पुनर्वास केंद्र जा पहुंचे, जहां 10 की क्षमता वाले वार्ड में नौ बच्चे भर्ती हैं। उनसे व्यवस्था के बारे में खानपान,दवा, नाश्ता,दाल-चावल इत्यादि की गहनता से जानकारी ली। पुर्नवास के रसोईघर में जा पहुंचे तो रसोईदार से भोजन बनाने की व्यवस्था में जानकारी ली। बताया गया कि मरीजों का भोजन रिफाइंड आयल में बनता है। इस पर नाराजगी जताते हुए उन्होंने कोकोनट आयल में भोजन बनाने के निर्देश दिए। सीएमओ डा.इंद्र नारायण तिवारी को निर्देशित किया कि मानक के अनुरूप बीमार बच्चों में खाद्य पदार्थ की उपलब्धता सुनिश्चित करें। एसआइसी अनूप कुमार श्रीवास्तव, जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव सहित अन्य चिकित्सक व स्टाफ नर्स उपस्थित थीं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment