.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: 04 घंटे पूछताछ के बाद एटीएस ने 03 युवकों को चेतावनी दे छोड़ा



साक्ष्य की तलाश में पहुंची थी अमिलो के महमूदपुरा

एक पखवाड़े पहले गिरफ्तार किया गया था सबाउद्दीन

आजमगढ़ : रेशमी नगरी के नाम से विख्यात मुबारकपुर कस्बे से सटे अमिलो का महमूदपुरा गुरुवार को एक बार फिर एटीएस को लेकर चर्चा में आ गया। एक पखवाड़े पहले गिरफ्तार संदिग्ध आतंकी सबाउद्दीन से पूछताछ के बाद कुछ अन्य साक्ष्य की तलाश में आई एटीएस ने तीन लोगों को उठाया। तीनों से मुबारकपुर थाने मेें चार घंटे की पूछताछ के बाद उनके परिवार वालों को सौंप दिया। एटीएस की मौजूदगी के दौरान लोगों में खौफ भरा रहा।
एटीएस के किसी अधिकारी ने कोई बयान तो नहीं दिया, लेकिन चर्चा है कि सबाउद्दीन का पेन ड्राइव और उसके द्वारा एक युवक को दिए गए तलवार की तलाश में आई थी। उठाए गए एक युवक ने बताया कि सबाउद्​दीन की गिरफ्तारी के बाद डर वश उसे पोखरे में फेंक दिया गया है। पुलिस उस युवक को पोखरे के पास भी ले गई, लेकिन कुछ हासिल नहीं हो सका। उधर एटीएस के पहुंचने के बाद मोहल्ले में अफरा-तफरी का माहौल हो गया।
सबसे पहले टीम आरोपित सबाउद्दीन के घर पहुंची और स्वजन से पूछताछ करने के बाद अमिलो बाजार निवासी एक युवक को उसके घर से उठा लिया। उसके बाद पूर्व में पूछताछ कर छोड़े गए युवक के घर पहुंची। वहां से पूछताछ करने के बाद दूसरे युवक के घर जाकर पूछताछ करने के बाद पोखरे का नक्शा बनाया। चर्चा के अनुसार एटीएस जिन सुबूतों की तलाश में आई थी, उसे हासिल करने के लिए ही तीन लोगों को उठाकर मुबारकपुर थाने ले गई थी। चार घंटे पूछताछ के बाद भी साक्ष्य नहीं मिल सका। अंत में एटीएस ने सुधरने की चेतावनी देते हुए तीनों को रिहा करने का आदेश दिया। एटीएस के एक अधिकारी ने कड़े शब्दों में चेताया की अभी समय है, सुधर जाओ। कोई साक्ष्य मिले तो थाने को सुपुर्द कर दो, क्योंकि किसी के कहने पर सुबूत को नष्ट करना भी अपराध है। 
इसी पोखरे में थी पेन ड्राइव की तलाश

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment