.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ: निरोधात्मक कार्रवाई में लापरवाही पर थाना प्रभारियों से मांगा स्पष्टीकरण


डीआइजी ने शिथिलत पर थाना प्रभारियों की क्लास ली

श्रावण, बकरीद पर्व पर अधिक सतर्कता बरतें -अखिलेश कुमार

आजमगढ़: पुलिस लाइन सभागार में मंगलवार को अपराध समीक्षा बैठक में डीआइजी अखिलेश कुमार ने कार्य में शिथिलता बरतने वाले थाना प्रभारियों की जमकर क्लास ली। दो घंटे चली समीक्षा में थाना प्रभारी पसीने से तरबतर होते रहे। डीआइजी ने संपत्ति संबंधित अपराधों में वृद्धि होने व निरोधात्मक कार्रवाई में कमी मिलने पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, सिधारी, रानी की सराय, देवगांव, मेंहनगर, तरवां, जीयनपुर, महराजगंज, अतरौलिया, पवई व दीदारगंज से स्पष्टीकरण तलब किया। प्रभारी निरीक्षक निजामाबाद द्वारा निरोधात्मक कार्रवाई में कमी पाए जाने पर नोटिस देकर जवाब मांगा है। लंबित विवेचनाओं की समीक्षा में थाना कोतवाली, कंधरापुर, जहानागंज, बरदह, महराजगंज, अतरौलिया से अपेक्षित विधिक निस्तारण नहीं मिला, जिस पर उन्होंने थाना प्रभारियों से जवाब मांगा है।
समीक्षा में जनसुनवाई प्रणाली के तहत आमजन की शिकायतों के निस्तारण में कमियां मिलीं, जिस पर उन्होंने प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, गंभीरपुर, बिलरियागंज, रौनापार थाना प्रभारियों से स्पष्टीकरण मांगा है।
सक्रिय अपराधियों के खिलाफ हिस्ट्रीशीट न खाेलने पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, कंधरापुर, मेंहनाजपुर, महराजगंज, अतरौलिया, तहबरपुर, सरायमीर व दीदारगंज थाना इंचार्ज को चेतावनी दी।
डीआइजी ने बेहतर कार्य करने वाले थानाध्यक्षों की सराहना भी की है। प्रभारी निरीक्षक कोतवाली व देवगांव को अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर व गुंडा एक्ट की कार्रवाई, थानाध्यक्ष रौनापार, बिलरियागंज, मुबारकपुर, जहानागंज व गंभीरपुर को अपराधों पर प्रभावी नियंत्रण व थानाध्यक्ष तरवां एवं मेहनाजपुर को जनता की समस्याओं का निस्तारण बेहतर मिलने पर सराहा।
डीआइजी ने साफ-सफाई बेहतर करने के लिए प्रत्येक रविवार को स्वच्छता अभियान चलाने का निर्देश दिया। कहा कि पुलिस लाइन की सभी शाखाओं एवं थानों पर श्रमदान किया जाए।
डीआइजी अखिलेश कुमार ने श्रावण व बकरीद को देखते हुए सतर्कता बरतने का निर्देश दिया। कहा कि सुबह भ्रमणशील रहते हुए अवांछनीय तत्वों पर कार्रवाई की जाए। पैदल गश्त करते हुए जनता से समन्वय स्थापित किए जाए। जगह बदलकर संदिग्ध वाहनों एवं व्यक्तियों की चेकिंग की जाए। वांछित अभियुक्तों के खिलाफ गिरफ्तारी व लंबित विवेचनाओं के निस्तारण के प्रयास हो। एंटी रोमियो टीम विद्यालय, कोचिंग संस्थान आदि में नियमित भ्रमणशील रहे। संवेदनशील व मिश्रित आबादी वाले क्षेत्रों पर विशेष रखी जाए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment