.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: प्रेम की राह में आड़े नहीं आ पाया धर्म का बंधन


मुस्लिम युवती ने सनातन रीति रिवाज से की शादी

मांग में सूरज ने भरा सिंदूर तो मंदिर में लिए सात फेरे

आजमगढ़: जिले में मुस्लिम युवती और हिंदू युवक के मंदिर में सात फेरे लेने की तस्‍वीरें और वीडियो दो दिन से वायरल हो रही है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्‍वीरों में मुस्लिम युवती ने हिंदू रीति रिवाज के साथ परंपराओं का निर्वहन किया और वैदिक रीति रिवाज से ईश्‍वर को साक्षी मानकर सात फेरे भी लिए। दो दोस्‍तों के बीच उपजा प्रेम तो धर्म के बंधन भी तोड़ दिए। आजमगढ़ में सूरज और मोमिन खातून ने सम्मो माता मंदिर में शादी रचाई।
हालांकि, शादी में दुखद पक्ष यह रहा कि जहां विवाह से वर पक्ष खुश नजर आया वहीं कन्या पक्ष ने विवाह के आयोजन से किनारा कर लिया। वहीं पारिवारिक सूत्रों के अनुसार मोमिन खातून ने हिंदू धर्म की मान्‍यताओं के पालन का संकल्‍प लेते हुए वैदिक रीति रिवाजों के पालन की परंपरा को स्‍वीकार कर सात फेरे लिए।
प्यार में तब्दील हुई दोस्ती, तो प्रेमी सूरज और मोमिन खातून ने जाति-धर्म के सारे बंधन तोड़ सात जन्माें के बंधन में बंधने की ठान ली। दोनों की जिद के आगे परिवार के लोग भी लाचार हो गए, तो अपनी रजामंदी दे डाली। उसके बाद गुरुवार को दोनों ने सम्मो माता मंदिर में हिंदू रिति-रिवाज से शादी रचा ली। इस दौरान फर्क यह कि वर पक्ष तो शादी में शामिल हुआ, लेकिन कन्या पक्ष ने खुशी के इस मौके से किनारा कर लिया।
क्षेत्र के खानपुर फतेह निवासी सूरज की दो साल पहले हैदरपुर खास गांव की मोमिन खातून से दोस्ती हुई और कुछ दिनों बाद प्यार में बदल गई। प्यार परवान चढ़ने लगा तो एक-दूसरे से छिपकर मिलने लगे। फिर साथ जीने और साथ मरने की कसमें खाकर एक- दूसरे का जीवन साथी बनने की कसम खा ली। कुछ दिन तक तो सब पर्दे के पीछे रहा, लेकिन उसके बाद दोनों ने अपने फैसले से परिवार वालों को भी अवगत करा दिया।
प्‍यार में दोनों एक- दूसरे के लिए सबकुछ छोड़ने को तैयार हो गए। फिर ताे परिवार ने विरोध करना उचित नहीं समझा। यह शादी लोगों में चर्चा का विषय बनी रही। युवक ने बताया कि शादी परिवार वालों की रजामंदी से हो रही है। किसी प्रकार का कोई दबाव नहीं है। युवती ने भी यही बात कही। सबकुछ तो सुखद रहा, लेकिन शादी से कन्या पक्ष किनारे ही रहा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment