.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: परिजनों ने सड़क पर मौर्य दंपत्ति के शव रख जाम लगाया



थानाध्यक्ष पर कार्यवाही,आरोपियों की गिरफ्तारी और खुद की सुरक्षा की मांग की

एसडीएम फूलपुर के आश्वासन पर जाम खत्म कर अंतिम संस्कार किया

आजमगढ़: अहरौला थाना क्षेत्र के फुलवरिया बाजार के सजनी मोड़ पर शुक्रवार को मौर्या दंपत्ति का शव रखकर जाम कर दिया। अहरौला अंबारी मार्ग जाम रहा। मौके पर भारी पुलिसबल तैनात रहा। परिजनों की मांग थी आरोपियों की गिरफ्तारी, थानाध्यक्ष अहरौला का निलंबित हों। लोगो ने आरोप लगाया कि थानाध्यक्ष के रहने पर जांच प्रभावित होगी, वह परिवार की सुरक्षा आदि मांग कर रहे थे। एक घंटे बाद मौके पर उपजिलाधिकारी फूलपुर ज्ञानचंद गुप्ता मौके पर पहुंचे। मृतक दंपति के पुत्र शिवांश और परिजनों से बात कर सभी मांगो को पूरा करने का आश्वासन दिया । जिस पर लगभग 12 बजे परिजन जाम को सामाप्त किए और शवों के अंतिम संस्कार करने के लिए मान गए । ऋषि दुर्वाषा पौराणिक स्थल के तमसा मंजूषा तट पर अंतिम संस्कार किया गया।
वही परिजनों ने बताया की गुरुवार को रात लगभग साढ़े नौ बजे पोस्टमार्टम से शव घर पहुंचा । घर पर थाने की पुलिस भी पहुंच गयी और अंतिम संस्कार के लिए दबाव बनाने लगी , लेकिन ऐसा नहीं हुआ। शुक्रवार को सुबह सीओ फुलपुर गोपाल स्वरूप वाजपेई पोस्टमार्टम रिपोर्ट लेकर पहुंचे थे। 2008 में पारा गांव पंचायत का उप चुनाव हुआ था जिसमें इन्द्रपाल मौर्या 2008 से 2010 तक पारा गांव के प्रधान भी रहे। वह तीन भाइयों में सबसे छोटे थे। 2021 में भी प्रधानी का चुनाव में प्रत्याशी रहे। इन्द्रपाल मौर्या का सबसे बड़ा लड़का शिवांश अभी 18 वर्ष का हुआ है , दो बेटी एक 16 वर्ष की तक दूसरी छोटी 14 साल की है। जिस उम्र में बच्चों को मां बाप की छत्र छाया जरूरी थी । अब उन पर छोटी उम्र में गृहस्थी की जिम्मेदारी आन पड़ी है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment