.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: गैस एजेंसी के नाम पर 13 लाख की ठगी, आरोपित गिरफ्तार


साइबर थाना टीम ने बिहार निवासी आरोपी को पकड़ा

फर्जी वेबसाइट बनाकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

आजमगढ़: साइबर सेल की टीम ने रविवार की रात रानी की सराय बाजार से गैस एजेंसी के नाम पर 13 लाख रुपये की ठगी करने के आरोपित आशुतोष कुमार निवासी बलवापार चकवे, थाना वासलीगंज, जिला नेवादा (बिहार) को गिफ्तार किया है। उसके पास से मोबाइल व एटीएम कार्ड बरामद हुआ। वेबसाइट बनाकर यह गिरोह लोगों को गैस एजेंसी व पेट्रोल पंप देने के नाम पर ठगी करता था। दीदारगंज निवासी गोरखनाथ ने 30 दिसंबर 2020 को तहरीर दी थी कि अज्ञात व्यक्ति ने मुझसे इंडेन गैस एजेंसी देने के नाम पर 13 लाख रुपये की धोखाधड़ी कर ली है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर विधिक कार्रवाई में जुट गई थी। साइबर सेल ने सर्विलांस का सहारा लेकर ठगी करने वाले को चिह्नित कर लिया। साइबर सेल प्रभारी विमल प्रकाश राय उसकी लोकेशन पर नजर रखे हुए थे। साइबर सेल से नोटिस भी जारी किया गया था। उसी के संदर्भ में वह रानी की सराय बाजार में आया हुआ था। सूचना मिलते ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। उसके कब्जे से मोबाइल व एटीएम कार्ड बरामद हुआ। फर्जी वेबसाइट बनाकर ठगी करने वाले गिरोह के सरगना निशांत को औरंगाबाद (बिहार) पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। सर्विलांस सेल प्रभारी की पूछताछ में आशुतोष कुमार ने बताया कि मेरे गांव के बगल का निशांत कुमार निवासी हथियारी थाना पकरीबरवा, जिला नेवादा, बिहार इस गैंग का मुख्य सरगना है। गैस एजेंसी व पेट्रोल पंप की फर्जी वेबसाइट बनवाकर आनलाइन फार्म भरवाता है, फिर उन्हें गैस एजेंसी व पेट्रोल पंप के फर्जी डाक्यूमेंट देकर लोगों से धोखाधड़ी करता है। मैं और मेरे चाचा कौशल कुमार, विनय पंडित व वंति कुमार भी इस धोखाधड़ी में शामिल हैं, जो बैंक खातों में पैसे मंगाकर आपस में बांट लेते हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment