.

.

.

.
.

आजमगढ़: हत्यारोपितों की गिरफ्तारी को थाने का घेराव, आठ महिलाएं हिरासत में


अतरौलिया के भेदौरा में सिद्धार्थ उर्फ गुडलक की गोली मारकर हत्या हुई थी

आक्रोशित मां और बहनों ने केरोसिन छिड़ककर आत्मदाह की कोशिश की

आजमगढ़: अतरौलिया क्षेत्र के भेदौरा गांव में सिद्धार्थ सिंह उर्फ गुडलक की गोली मारकर हत्या के छह दिन बाद भी आरोपितों की गिरफ्तारी न होने से नाराज गांव की महिलाओं ने मृतक की मां और बहनों के साथ शुक्रवार को दिन में सवा तीन बजे अतरौलिया थाने का घेराव कर दिया। आक्रोशित मां और बहनों ने केरोसिन छिड़ककर आत्मदाह की कोशिश की। पुलिस ने किसी तरह से हाथ से माचिस छीनकर सभी को बचाया।
घेराव कर रही महिलाएं आरोपितों का घर गिराने और उन्हें गोली मारने की मांग कर रही थीं। एएसपी ग्रामीण सिद्धार्थ ने उन्हें समझाने का प्रयास किया और बताया कि पुलिस किसी का घर नहीं गिरा सकती, बल्कि कानून के अनुसार कार्रवाई कर सकती है। उनके समझाने का भी जब कोई असर नहीं हुआ, तो शाम छह बजे बल प्रयोग कर भीड़ को खदेड़ दिया गया। इस दौरान पुलिस ने मृतक की मां और दो बहनों समेत आठ महिलाओं को हिरासत में ले लिया। देर शाम तक फैसला नहीं हो सका था कि पुलिस आगे क्या करेगी।
भदौरा गांव में गुडलक की 15 मई की रात 10 बजे उनके घर के पास ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मृतक के पिता अनिल सिंह ने अतरौलिया थाने में पांच नामजद एवं तीन-चार अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। उस समय पुलिस ने शीघ्र कार्रवाई का भरोसा दिया था, लेकिन छह दिन बाद भी कोई गिरफ्तारी न होने पर पीड़ित परिवार के साथ दो वाहनों से पहुंची महिलाओं ने थाने का घेराव कर दिया। भीड़ के साथ मृतक की मां लक्ष्मी देवी, दोनों बड़ी बहनें साक्षी सिंह एव श्रेया सिंह थाने के मुख्य द्वार पर धरने पर बैठ गईं। मां-बहनों ने केरोसिन डालकर आग लगाने का प्रयास किया, लेकिन पुलिसकर्मियों ने श्रेया के हाथ से माचिस छीन ली। अफरा-तफरी के बीच दोनों बहनें कुछ देर के लिए थाना गेट पर ही बेहोश हो गईं। मृतक की मां लक्ष्मी देवी ने बताया कि पुलिस आरोपितों के घर जाकर पुलिस चाय-नाश्ता कर दोषियों को बचा रही है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment