.

.

.

.
.

आजमगढ़: नहाने गए दो मौसेरे भाइयों की पोखरे में डूबने से मौत


फूलपुर कोतवाली के बिलारमऊ गांव की घटना

आजमगढ़: फूलपुर कोतवाली के बिलारमऊ गांव में बुधवार की दोपहर दो परिवारों पर एक साथ वज्रपात हो गया। नहाने गए दो किशोरों की पोखरे में डूबने से मौत हो गई। मृतकों में फूलपुर कोतवाली के बिलारमऊ निवासी सत्यम पुत्र सुरेंद्र चौरसिया और पवई थाना के कलान निवासी शुभम पुत्र राम अवध चौरसिया मौसेरे भाई थे। शुभम चार दिन पहले गर्मी की छुट्टी मनाने के लिए फूलपुर कोतवाली के बिलारमऊ स्थित अपने मौसा सुरेंद्र चौरसिया के यहां आया हुआ था। बुधवार को दिन में 11 बजे सत्यम ने मौसेरे भाई शुभम से कहा कि चलो पोखरे में नहाया जाए। उसके बाद दोनों घर से कुछ दूर ईंट भट्ठे के पास पोखरे में स्नान करने के लिए चले गए। काफी देर बाद कोई दूसरा किशोर स्नान के लिए गया, तो दोनों का शव पानी में उतराया देखा और गांव के लोगों को जानकारी दी। उसके बाद स्वजन के साथ गांव वाले पोखरे की ओर दौड़ पड़े। दोनों किशोरों को पोखरे से बाहर निकालने के बाद बचा लेने की उम्मीद में आनन-फानन लोग जौनपुर जिले के शाहगंज स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले गए, जहां डाक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।उसके बाद शव को घर लाया गया, जहां पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। सत्यम अपने माता-पिता का इकलौता संतान और कक्षा सात में पढ़ता था। उसकी मौसी का पुत्र शुभम भी कलान स्थित विद्यालय में कक्षा सात का छात्र था। सत्यम की मां आशा का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। दोनों बालको की मौत की खबर सुनकर स्वजन में कोहराम मच गया, तो पूरा गांव शाेक में डूब गया। घटना के बारे में जिसने भी सुना वह सुरेंद्र चौरसिया के दरवाजे पर पहुंच गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment