.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: पूर्व विधायक की हत्या के दोषी फरार रिजवान व विजय पर 01-01 लाख का होगा इनाम


आरोपियों पर दोष हो चुके हैं सिद्ध, 17 मई को सुनाई जा सकती है सजा

जीयनपुर पुलिस ने पुरस्कार राशि बढ़ाने की सिफारिश की

आज़मगढ़: पूर्व विधायक हत्याकांड में फरार चल रहे दो शातिर अपराधियों पर ईनाम की राशि और बढ़ाई जाएगी। 50 हजार से बढ़ा कर ईनाम एक लाख किए जाने की संस्तुति जीयनपुर कोतवाली पुलिस ने की है। इस बाबत प्रभारी निरीक्षक की तरफ से एसपी को पत्र भी भेज दिया गया है।
19 जुलाई 2013 को पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की जीयनपुर कस्बे में उनके घर के पास ही गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पूर्व विधायक के बड़े भाई संतोष सिंह टीपू ने कुख्यात अपराधी कुंटू सिंह समेत अन्य के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया था। पुलिस ने विवेचना के बाद कुंटू समेत 13 के खिलाफ आरोप पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया था। जिसमें कुंटू समेत नौ पर न्यायालय ने दोष सिद्ध कर दिया है और आज सजा के बिंदु पर सुनवाई भी होगी। इसमें कुख्यात कुंटू के अलावा राजेंद्र यादव, संग्राम सिंह, रिजवान, विजय यादव, दिनेश, मृत्युंजय, शिवप्रकाश व दुर्ग विजय शामिल है। इसमें रिजवान व विजय यादव कोर्ट में बयान दर्ज कराने के बाद से फरार चल रहे है। पहले इन पर एसपी ने 25-25 हजार का ईनाम घोषित किया। जिसमें कुछ दिनों पूर्व ही डीआईजी अखिलेश कुमार ने बढ़ा कर 50-50 हजार कर दिया। अब जीयनपुर कोतवाली पुलिस ने इन दोनों शातिर अपराधियों पर ईनाम की राशि एक-एक लाख किए जाने की संस्तुति के साथ एसपी को पत्र भेजा है। कोतवाली प्रभारी यादवेंद्र पांडेय ने बताया कि ईनाम की राशि बढ़ाने को लेकर उन्होंने एसपी को पत्र भेज दिया है। जहां से वह एडीजी के पास जाएगा और जल्द ही एडीजी के यहां से ईनाम की राशि बढ़ा दिए जाने की संभावना है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment