.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: प्रतापगढ़ में वरिष्ठ सहायक की मौत पर जिले के तहसील कर्मियों में भी उबाल


धरना दे कर मुख्यमंत्री को संबोधित तीन सूत्रीय मांग पत्र डीएम को सौंपा

एक सप्ताह के अंदर आरोपित एसडीएम की गिरफ्तारी की मांग किया

आजमगढ़: प्रतापगढ़ जिले की तहसील लालगंज के वरिष्ठ सहायक सुनील कुमार शर्मा के मौत के मामले में एसडीएम ज्ञानेंद्र सिंह यादव को बर्खास्त करने की मांग को लेकर सोमवार को कलेक्ट्रेट व जिले के सभी तहसीलों के कर्मचारियों ने आवाज बुलंद की। कार्य बहिष्कार के साथ ही कार्यालयों में तालाबंदी की। जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट भवन के भूतल में धरना दिया। मुख्यमंत्री को संबोधित तीन सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी को सौंपा। मांग किया कि एसडीएम ज्ञानेंद्र विक्रम सिंह यादव की तत्काल गिरफ्तारी कर उन्हें सेवा से बर्खास्त किया जाए। मृतक सुनील कुमार शर्मा के आश्रितों को एक करोड़ रुपये मुआवजा दिया जाए और आश्रितों को तत्काल नौकरी दी जाए। उत्तर प्रदेश मिनिस्ट्रियल कलेक्ट्रेट कर्मचारी संघ के बैनर तले धरनारत पदाधिकारियों व कर्मचारियों ने डीएम को संबोधित ज्ञापन के माध्यम से आरोप लगाया कि प्रतापगढ़ की तहसील लालगंज के एसडीएम ने वरिष्ठ सहायक को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया। शाम को जिला अस्पताल में जाकर छाती व गला दबाकर हत्या कर दी गई। इस प्रकरण में वहां के जिला अस्पताल के सभी डाक्टर एवं मुख्य चिकित्साधिकारी भी पूर्ण रूप से सहभागी हैं। घटना के संबंध में एसडीएम के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया लेकिन अभी तक गिरफ्तारी नहीं की गई। किसी भी अधिकारी को अपने कर्मचारी से मारपीट और हिंसक वारदात करने का अधिकार नहीं है। कलेक्ट्रेट मुख्यालय पर तालाबंदी के बाद धरनारत कर्मचारियों ने कहा कि यदि एक सप्ताह के अंदर आरोपित एसडीएम की गिरफ्तारी कर तीनों मांगे पूरी न होने पर प्रांतीय कार्यकारिणी के निर्देशानुसार अग्रिम आंदोलन किया जाएगा। अध्यक्षता कृपानरायन लाल श्रीवास्तव व संचालन संगठन के सचिव प्रवीण कुमार राय ने किया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment