.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: छत के रास्ते पहुंच फायर कर्मियों ने बुझाई आग



जिला चिकित्सालय में अग्नि शमन विभाग ने माकड्रिल किया,हैरत में पड़े मरीज व तीमारदार

आजमगढ़: मंडलीय जिला अस्पताल के बरामदे में अचानक आग लग गई। किसी की नजर पड़ी तो शोर शुरू हो गया। बचाओ-बचाओ का शोर मचाते हुए मरीज से लेकर तीमारदार और स्टाफ तक इधर-उधर भागने लगे। कई लोग तो सीढ़ी के रास्ते छत पर पहुंच गए। अस्पताल के कर्मचारी उपलब्ध संसाधन से आग को कंट्रोल करने में लग गए। इसकी सूचना फायर ब्रिगेड को मिली तो जवानों ने पहुंचकर आग बुझाना शुरू किया। अस्पताल आग से घिर जाने के कारण सामने से कंट्रोल करना मुश्किल हो गया, तो जवान सीढ़ी से छत के रास्ते अंदर दाखिल हुए। सबसे पहले छत पर फंसे लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला और उसके बाद अस्पताल के अंदर की आग को काबू में किया।
दरअसल शासन के निर्देश पर मंगलवार को मंडलीय जिला चिकित्सालय में अग्नि शमन विभाग ने माकड्रिल किया था। पहले से तय कार्यक्रम के तहत एक स्थान पर आग जलाई गई, फिर अस्पताल के कर्मचारियों ने शोर मचाना शुरू किया। मरीज और तीमारदारों को इसकी जानकारी नहीं थी, तो वह भी शोर मचाते इधर-उधर भागना शुरू कर दिए।
माकड्रिल के दौरान फायर कर्मियों ने प्रथम तल पर कमरे में बेहोश पड़े एक युवक को उतारा और तुरंत स्ट्रेचर पर लादकर आपातकालीन कक्ष में पहुंचाया। लोगों ने सोचा कि आग से झुलसा हुआ युवक है। उसे देखने के लिए लोगों की काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। बाद में अग्निशमन अधिकारी ने पहुंचकर लोगों को बताया कि घबराएं नहीं, यह माकड्रिल है। लोगों को बताया जा रहा है कि आग से कैसे बचाव और लोगों की कैसे मदद की जाए। इस दौरान एसआसी डा. अनूप कुमार सिंह, सुभाष पांडेय, फार्मासिस्ट मुसाफिर यादव, डा. एके शाह आदि उपस्थित रहे।
इस दौरान मुख्य अग्निशमन अधिकारी सत्येंद्र पांडेय के नेतृत्व में अग्निशमन अधिकारी बनारसी दास आदि ने मंडलीय जिला चिकित्सालय में अग्निशमन उपकरणों को संचालित करने का प्रशिक्षण दिया। चिकित्सालय भवन में लगे अग्निशमन उपकरणों को सदैव कार्यशील रखने का निर्देश दिया। उपस्थित लोगों के बीच अग्निशमन के साथ उससे बचाव के तरीकों का प्रचार-प्रसार का कार्य किया गया।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment