.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बैंक प्रतिष्ठान, कैश वैन एवं ग्राहकों की सुरक्षा के लिए हुआ सेमिनार


एसपी सिटी ने बैंको व वित्तीय प्रतिष्ठानों के लोगों संग सुरक्षा संबंधी मीटिंग में दिए निर्देश

आज़मगढ़: पुलिस अधीक्षक आजमगढ़ अनुराग आर्य के निर्देश पर बैंक प्रतिष्ठान, कैश वैन एवं बैंक ग्राहकों की सुरक्षा के संबंध में दिए गए निर्देश के क्रम में मंगलवार को अपर पुलिस अधीक्षक नगर शैलेंद्र लाल द्वारा जनपद में बैंक/वित्तीय प्रतिष्ठान कैश वैन , बैंक ग्राहकों की सुरक्षा के संबंध में विशेष अभियान के तहत पुलिस लाइन आजमगढ में शहर क्षेत्र के सभी राष्ट्रीय कृत बैंक, प्राइवेट बैंक एवं अन्य फाइनेंसिंग संस्थाओं के प्रबंधकों की एवं पुलिस अधिकारियों की मीटिंग/ सेमिनार आयोजित की गई, जिसमें सभी बैंक प्रबंधकों से बैंकों की सुरक्षा, अन्य वित्तीय संस्थाओं की सुरक्षा, कैश वैन की सुरक्षा एवं बैंक के ग्राहकों के संपत्ति की सुरक्षा के संबंध में विस्तृत रूप से विचार विमर्श कर निर्देश दिए गए। जिसमें महत्वपूर्ण बैंकों में जहां पर पुलिस गार्ड की स्थायी रूप से आवश्यकता हो उन्हें नियमानुसार पत्राचार करने हेतु बताया गया तथा बैंक के अंदर, बैंक के बाहर एवं बैंक के पार्किंग स्थलों के आसपास के क्षेत्र को सी0सी0टी0वी0 से आच्छादित किए जाने के संबंध में सी0सी0टी0वी0 लगाने हेतु निर्देशित किया गया। बैंकों में इमरजेंसी अलार्म सिस्टम अग्नि व मैग्नेटिक सेंसर युक्त अलार्म लगाने हेतु, फायर एक्सटिंग्विशर, एक्सेस कंट्रोल सिस्टम के सम्बन्ध में विस्तृत रूप से बताया गया तथा जो भी सी0सी0टी0वी0 कैमरे लगे उसमें अत्याधुनिक एवं उत्कृष्ट किस्म की रिकॉर्डिंग सिस्टम, नाइट विजन कैमरे से लैस हो। इसमें बैंक के अंदर के समस्त केबिन व बाहर के हिस्सों को कवर किया जाए तथा ऐसे बैंकों को बैंक के आसपास स्थानों को भी ब्लैक स्पॉट के रूप में चिन्हित किए जाने हेतु सभी को उचित निर्देश दिए गए। बैंकों के आसपास पुलिस बल लगाये जाने के अतिरिक्त 112 नंबर पी0आ0वी0 की वाहनो को प्रभावशाली तरीके से व्यवस्थित किए जाने हेतु बताया गया। बैंक के प्राइवेट गार्ड के सुरक्षा के मानकों की चेकिंग के लिए भी समय-समय पर किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। उल्लेखनीय है कि बैंकों में लूट/डकैती/ चोरी की घटना के कारण न केवल राष्ट्र की आर्थिक स्थिति होती है वरन सामान्य असुरक्षा की भावना उत्पन्न होती है। इसलिए बैंकों से संबंधित वित्तीय संस्थाओं को बैंकों के संपत्ति की सुरक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने एवं पुलिस तथा बैंक के अधिकारियों को अधिक संवेदनशील होकर कार्य किए जाने हेतु निर्देशित किया गया। आज की बैठक में राष्ट्रीयकृत एवं अन्य प्राइवेट बैंकों के 23 बैंक प्रबंधक एवं प्रभारी निरीक्षक कोतवाली सम्मिलित हुए । सभी से सुझाव भी मांगे गए हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment