.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: शराब ठेका खुलने से पहले ही महिलाओं ने खोल दिया मोर्चा



लाठी डंडे ले कर घरों से निकलीं, किया प्रदर्शन एवं तोड़फोड़

महिलाओं का तेवर देख भाग निकले निर्माण कराने वाले

आजमगढ़ : शहर कोतवाली क्षेत्र के बंशी बाजार में आबादी के करीब देसी शराब का ठेका खोले जाने की भनक लगते ही गुरुवार को महिलाएं भड़क उठीं। लाठी-डंडे के साथ घर से निकलकर प्रदर्शन किया। ठेका खोलने के लिए जिस स्थान पर दुकान का निर्माण कराया जा रहा था वहां पहुंचकर तोड़फोड़ करने लगीं। महिलाओं का तेवर देख दुकान का निर्माण कराने वाले भाग खड़े हुए। हंगामा-बवाल की खबर लगी तो कोतवाली पुलिस भी जा धमकी। पूरा वाक्या समझने के बाद महिलाओं को समझाने की कोशिश की लेकिन सफल नहीं हो सकी। महिलाएं अपनी बात मनवाने के बाद ही शांत पड़ीं। पुलिस ने भी वहां दुकान का निर्माण कराने वालों को बता दिया कि दुकान कहीं और ले जाएं। महिलाओं ने बताया कि पहले यह दुकान रफीपुर बाजार में थी, जिसे यहां खोलने की तैयारी की जा रही है, लेकिन हम लोग यहां दुकान नहीं खुलने देंगे। कारण कि यहीं पर हर विभिन्न पर्वों पर देवी-देवताओं की मूर्तियां स्थापित की जाती हैं। गांव के लोग पूजा-अर्चना करते हैं। यहां शराब की दुकान खोलना कहीं से भी उचित नहीं है। लाठी के साथ निकलीं महिलाओं में इतना आक्रोश था कि ठेका खुलने से पहले वहां तोड़फोड़ चालू कर दिया। किसी तरह पुलिस के पहुंचने पर और स्थानीय लोगों के हस्तक्षेप के बाद शांत तो हुईं, लेकिन साफ बता दिया कि यहां पर वह शराब का ठेका नहीं खुलने देंगी। कहा कि गांव के नजदीक शराब ठेका खुलने से महिलाओं को भी आगे चलकर दिक्कत होगी। माैके पर पहुंचे बलरामपुर पुलिस चौकी इंचार्ज प्रदीप मिश्रा ने भी कहा कि अगर यहां पूजा-अर्चना होती है, तो शराब की दुकान नहीं खुलनी चाहिए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment