.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: दिल्ली में खत्म हुआ, अब यूपी में भी खत्म हो जाएगा वंशवाद- अश्वनी चौबे

केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे, अखिलेश मिश्र गुड्डू( बाएं से)

केंद्रीय मंत्री ने सदर विधानसभा से प्रत्याशी अखिलेश मिश्रा के पक्ष में की सभा

आज़मगढ़ अब बदनाम नही वाणिज्यिक केंद्र के रूप में जाना जाएगा- केन्द्रीय मंत्री

आज़मगढ़: हमारी पार्टी सर्वधर्म संभाव पर विश्वास रखती है। यूपी में हम दोबारा सरकार बनाने जा रहे हैं। केन्द्रीय मंत्री का कहना है कि जितना रुझान इस बार भाजपा को मिल रहा है, इतना आज तक कभी नहीं मिला। योगी-मोदी ने जनता के लिए बहुत काम किया है। कोरोना काल में भी सरकार ने 15 करोड़ लोगों को राशन देने का काम किया है। यह बात आजमगढ़ के दौरे पर आए केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री अश्वनी चौबे ने सदर से भाजपा प्रत्याशी अखिलेश मिश्रा के पक्ष में जनसभा में कही।
उन्होंने कहा कि इस बार ओमप्रकाश राजभर और दारा सिंह चौहान की जमानत जब्त हो रही है। भाजपा की करनी-कथनी में अंतर नहीं है। यही कारण है कि इस बार सपा का वंशवाद हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा।
अश्विनी चौबे ने कहा कि इस बार सपा का गढ़ उखड़ चुका है। रामभक्तों पर गोली चलवाने वाले लोगों के घरों में आग लग चुकी है। चारों चरण में हुए मतदान में हमें 60 प्रतिशत से अधिक वोट मिले हैं। बाकी 40 में और लोग हैं। 10 मार्च के बाद सभी हत्या, बालात्कार, लूट और अपराध करने वाले माफिया बंगाल की खाड़ी में भाग खड़े होंगे।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बाबा का बुलडोजर तैयार खड़ा है। सरकार बनने के बाद अपराधियों पर यह बुलडोजर फिर चलाया जाएगा। आज अपराधी भाग खड़ा हुआ है। आजमगढ़ जो बदनाम जिला था, अब वाणिज्यिक केंद्र के रूप में जाना जाएगा। सरकार ने यहां पर एयरपोर्ट, यूनिवर्सिटी और पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे देने का काम किया है।
पंचर हो चुकी है साइकिल
उन्होंने कहा कि सपा-बसपा पर इस बार जनता का तीर चलेगा। भाजपा 350 के लक्ष्य को पार करने जा रही है। सपा की साइकिल पंचर हो गई है और परिवार में आग लग गई है। केंद्रीय मंत्री का कहना है कि दिल्ली में वंशवाद समाप्त हो गया है। जनता ने मन बना लिया है कि इस बार यूपी में भी वंशवाद हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment