.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: अब विधान सभा नहीं, विधान परिषद चुनाव लड़ना चाहते है अरुणकांत यादव


सपा ने उनकी सीट से पिता पूर्व सांसद रमाकांत यादव को बनाया है प्रत्याशी

बोले,पार्टी जिसे भी फूलपुर-पवई सीट से प्रत्याशी बनाएगी उसका प्रचार करेंगे

आजमगढ़: जिले में भारतीय जनता पार्टी के इकलौते विधायक अरुण कांत यादव विधान सभा का चुनाव नहीं लड़ेंगे। फूलपुर-पवई सीट पर सपा के टिकट पर पिता रमाकांत यादव के चुनाव लड़ने के एलान के बाद उन्होंने सीट छोड़ने की बात कही है। उनका कहना है कि वह भाजपा में ही रहेंगे और एमएलसी का चुनाव लड़ सकते हैं। वर्ष 2017 के विधानसभा चुनाव में फुलपुर-पवई सीट से अरुण कांत यादव भाजपा के टिकट पर विजयी हुए थे। जिले के 10 विधान सभा सीटों में मात्र यहीं एक सीट भाजपा के खाते में गई थी। अबकी बार अरुण कांत के पिता रमाकांत यादव को समाजवादी पार्टी ने इसी विधानसभा सीट से प्रत्याशी घोषित कर दिया है। पुत्र की सीट पर पिता की दावेदारी ने भाजपा की रणनीति को ही बिगाड़ दिया है। पिता-पुत्र आमने-सामने न हो इसे लेकर भाजपा ने अरूणकांत यादव को यहां से टिकट न देने का निर्णय लिया है। अरुण कांत ने बताया कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने आश्वासन दिया है। ऐसे में अब वह एमएलसी का चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। पार्टी जिसे भी फूलपुर-पवई विस सीट से प्रत्याशी घोषित करेगी वह उसका प्रचार भी करेंगे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment