.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: ईंट-भट्ठे पर छापा मार मुक्त कराए गए 19 मजदूर


एससी-एसटी आयोग में शिकायत के बाद कार्रवाई, ईंट-भट्ठा मालिक से दिलाया गया घर जाने का खर्च

आजमगढ़ : दीदारगंज थाना क्षेत्र के दुबावां गांव स्थित ईंट-भट्ठे पर श्रम विभाग और पुलिस की संयुक्त छापामारी में 19 बंधुआ मजदूरों को मुक्त कराया गया। साथ ही भट्ठा मालिक से रास्ते का खर्च दिलाकर उन्हें ट्रेन से उनके घर भेज दिया गया। मजदूरों की ओर से संभल जिले के गुन्नौर तहसील अंतर्गत बैरपुर निवासी दिनेश ने एससी-एसटी आयोग में शिकायत दर्ज कराई थी। वहां से पत्र को जिला प्रशासन को कार्रवाई के लिए अग्रसारित किया गया तो बुधवार की रात लेबर इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह, थानाध्यक्ष दीदारगंज मदन कुमार गुप्ता, कानूनगो सुरेंद्र आदि ने दुबावां पहुंचकर सभी 19 बंधुआ मजदूरों को मुक्त कराया। इसमें 10 पुरुष व नौ महिलाएं थीं। सभी मजदूर बदायूं एवं संभल के रहने वाले हैं। उन्हीं के बीच का एक ठेकेदार ईंट भट्ठा मालिक को सुपुर्द किया था। दिनेश ने आयोग को भेजे पत्र में आरोप लगाया था कि भट्ठा मालिक द्वारा प्रताड़ित किया जा रहा है और घर नहीं जाने दिया जा रहा है। आयोग के निर्देश पर एसडीएम मार्टीनगंज अनिल चतुर्वेदी, लेबर इंस्पेक्टर देवेंद्र सिंह एवं दीदारगंज थानाध्यक्ष मदन कुमार गुप्ता फोर्स के साथ मौके पर पहुंचकर मजदूरों का बयान लिया। सभी ने एक स्वर से कहा कि हमें घर जाना है। उसके बाद लेबर इंस्पेक्टर व एसओ ने भट्ठा मालिक अरविंद यादव से रास्ते के खर्च के लिए मजदूरों को पांच हजार रुपये दिलाया और सभी को प्राइवेट वाहन से ट्रेन पकड़ने के लिए शाहगंज भिजवाया। वहां से सभी बंधुआ मजदूर ट्रेन से अपने घर को रवाना हुए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment