.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़:जिले में यूरिया एवं डीएपी उर्वरक की कोई कमी नहीं है- डीएम


जिले में 16261.76 मीट्रिक टन यूरिया व डीएपी उपलब्ध है

खरीदने को कृषक को आधार कार्ड व खतौनी लाना अनिवार्य है

आजमगढ़: डीएम अमृत त्रिपाठी ने बताया कि जिले में यूरिया एवं डीएपी उर्वरक की कोई कमी नहीं है। यूरिया एवं डीएपी उर्वरक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। उन्होंने बताया कि पीसीएफ मंदुरी में यूरिया उर्वरक का सामान्य स्टाक 5.940 टन एवं प्रीपोजिसनिंग स्टाक 416.970 टन, पीसीएफ जाफरपुर में सामान्य स्टाक 622.355 टन, डीसीएफ जाफरपुर में सामान्य स्टाक 11.340 एमटी, निजी थोक विक्रेताओं के यहां सामान्य स्टाक 462.60 एमटी यूरिया उर्वरक उपलब्ध है।
जिले में फुटकर बिक्री केन्द्रों साधन सहकारी समिति पर 647.590 एमटी, केंद्रीय उपभोक्ता सहकारी भंडार पर 37.080 एमटी, पीसीएफ केंद्र पर 75.825 एमटी, जिला सहकारी संघ लिमिटेड पर 178.110 एमटी, यूपी एग्रो केंद्र पर 9.495 एमटी, आइएफएफडीसी पर 141.165 एमटी, एग्री जंक्सन केंद्र पर 724.205 एमटी, औद्यानिक समितियों पर 17.225 एमटी एवं निजी फुटकर विक्रेताओं के यहां 5974.700 एमटी यूरिया उर्वरक उपलब्ध है। जबकि पीसीएफ जाफरपुर में डीएपी का सामान्य स्टाक 4269.900 एमटी, डीसीएफ बूढ़नपुर में डीएपी का सामान्य स्टाक 297.050 एमटी, डीसीएफ जाफरपुर में डीएपी का सामान्य स्टाक 691.450 एमटी और निजी थोक विक्रेताओं के यहां सामान्य स्टाक 216.100 एमटी डीएपी उर्वरक उपलब्ध है। साथ ही जिले में फुटकर
बिक्री केंद्रों साधन सहकारी समिति पर 147.850 एमटी, पीसीएफ केंद्र पर 152.450 एमटी, जिला सहकारी संघ लिमिटेड पर 35.900 एमटी, यूपी एग्रो केंद्र पर 4.150 एमटी, आइएफएफडीसी पर 77.400 एमटी, एग्री जंक्सन केंद्र पर 66.579 एमटी एवं निजी फुटकर विक्रेताओं के यहां 978.333 एमटी डीएपी उर्वरक उपलब्ध है।
उर्वरक क्रय करने के लिए आधार कार्ड एवं खतौनी को शासन से अनिवार्य कर दिया गया है। इसलिए कोई भी किसान उर्वरक प्राप्त करने के लिए अपना आधार कार्ड एवं खतौनी लेकर बिक्री केंद्रों पर पीओएस मशीन से प्राप्त कर सकते हैं।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment