.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़ के लाल देवेश चन्द्र बने मिजोरम के डीजीपी,हर्ष का माहौल


जिले के बेटे संभाल रहे दो राज्यों की पुलिस और बीएसएफ की कमान

आजमगढ़: जिले के दो बेटे इस समय दो राज्यों की कमान संभाल रहे हैं। जिले के बूढ़नपुर के रहने वाले देवेश चन्द्र को मिजोरम का डीजीपी बनाया गया है। जिले के बेटे को डीजीपी बनाए जाने से घर-परिवार व रिश्तेदारों में खुशी का माहौल है। परिजनों का कहना है कि लगातार बधाईयां व शुभकामनाएं मिल रही हैं।और यह हम लोगों के लिए गर्व की बात है। इससे पूर्व 21 नवम्बर को जिले के मल्लूपुर के रहने वाले आईपीएस इन्द्रदेव शुक्ला का गोवा का डीजीपी बनाया गया था। जिले के बेटे दो राज्यों में पुलिस सेवा का नेतृत्व कर रहे हैं। यह जिले के लिए गर्व की बात है। मीडिया से बातचीत करते हुए देवेश के चाचा ओम प्रकाश श्रीवास्तव ने कहा कि यह हम लोगों के लिए बहुत खुशी की बात है। लगातार रिश्तेदार व शुभचिंतक हम लोगों को बधाईयां दे रहे हैं। हम लोगों की खुशियां बढ़ गई हैं कि हमारे घर-परिवार का लड़का इतने बड़े पद पर पहुंचा है। वहीं चाची निशा श्रीवास्तव का कहना है कि हमारे बच्चे आगे निकल रहे हैं, इससे बढ़कर खुशी की बात मेरे लिए और क्या हो सकती है। चाचा ओम प्रकाश श्रीवास्तव का कहना है कि मेरा भतीजा देवेश चन्द्र जिले के डीएवी कॉलेज का टॉपर रहा है। वर्ष 1987 में यहां से टॉप करने के बाद 1991 में गोरखपुर के मदन मोहन मालवीय इंजीनियरिंग कॉलेज से इंजीनियरिंग की और 1995 में आईपीएस में सेलेक्ट हो गया। तब से लगातार तरक्की करते-करते आज डीजीपी बना। हम लोगों के लिए गौरव के पल हैं। मिजोरम का डीजीपी बनने से पूर्व देवेश चन्द्र दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा में आयुक्त पद पर तैनात रहे। इसके साथ ही इंटेलीजेंस ब्यूरो व ओएनजीसी में अपनी सेंवाएं भी दी हैं। इससे पूर्व 21 नवम्बर को जिले के ही मल्लूपुर के रहने वाले आईपीएस इन्द्रदेव शुक्ला का गोवा का डीजीपी बनाया गया था। इन्द्रदेव शुक्ला के डीजीपी बनाऐ जाने के बाद गांव व परिवार में जश्न का माहौल था। इन्द्रदेव शुक्ला भी 1995 बैच के आईपीएस हैं। हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की शिक्षा उनकी कप्तानगंज बाजार स्थित तेरही के इंटर कॉलेज से हुई। इसके बाद उन्होंने अपने जीवन का लक्ष्य निर्धारित कर इलाहाबाद विश्वविद्यालय का रुख किया, जहां सर सुंदरलाल छात्रावास मिला और उनको विज्ञान वर्ग में प्रवेश मिला। 1995 में भारतीय प्रशासनिक सेवा में उनका चयन हो गया और गोवा पुलिस सर्विस ज्वाइन किया। गोवा में एसडीपीओ रहे और गोवा के एसपी भी रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment