.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: संस्कार की पाठशाला में भी पास हुए कान्वेंट को मात देने वाले स्कूल के बच्चे


02 सालों से 'एडमिशन फुल' का बोर्ड लगे सरकारी स्कूल पर पंहुचे समाजसेवी डॉ पीयूष यादव

प्रभावित चिकित्सक ने स्कूल को भेंट में कम्प्यूटर देने का किया एलान

आजमगढ़ : कांवेंट स्कूलों को मात दे रहे प्राथमिक विद्यालय सरायमीर द्वितीय कंपोजिट के बच्चे शनिवार को संस्कार पाठशाला में भी पास हो गए। डा. पीयूष सिंह यादव उनसे मिलने पहुंचे थे। अपनी प्रतिभा साबित करने में सफल रहे बच्चों ने अंग्रेजी को कमजोर तो कंप्यूटर के प्रति उनमें समझ शून्य जरूर बताई। हालांकि, बच्चों में संस्कार को देख डाक्टर ने स्कूल को नया कंप्यूटर तो अंग्रेजी पर पकड़ मजबूत करने के टिप्स दिए तो बच्चों के चेहरे पर उत्साह के भाव नजर आए। बच्चों के लिए भी शनिवार को दिन एकदम से अलग था। दो सालों से एडमिशन फुल होने के कारण बच्चों का दाखिला न कर सकने वाले सरकारी विद्यालय में डा. पीयूष सिंह यादव उत्सुकतावश पहुंचे थे। उनके साथ शिक्षक अभिमन्यु यादव भी रहे, लेकिन क्लास तो पीयूष ने ही ली। उनसे बातचीत में बच्चों ने डाक्टर, इंजीनियर, प्रशासनिक अफसर बनने की तमन्ना जताते अपने बड़े सपनों का एहसास कराया। संस्कार तो बच्चों के रग-रग में नजर आया। अंग्रेजी उनकी कमजोरी जान डाक्टर ने कहाकि रोजाना प्रयोग की चीजों की अंग्रेजी जानें तो अंग्रेजी आसान लगेगी। उन्होंने बच्चों को कंप्यूटर देने का न सिर्फ वादा किया बल्कि कहाकि कल स्कूल में आप कंप्यूटर पर काम करेंगे। बताया कि गुरु, माता, पिता, पड़ोसियों का भी आदर करें। रिश्तों का सम्मान करना सीखें। इससे पूर्व उन्होंने सपनों की उड़ान कार्यक्रम का शुभारंभ किया। शिक्षिका प्रिया राय अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि नए कार्यक्रम से बच्चों को लाभ हुआ है। रंजना राय,शैलेश प्रजापति, गोपाल विश्वकर्मा, राजेश यादव, दयाराम यादव सहित कई अभिभावक मौजूद रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment