.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: पूर्वांचल की भूमि की उर्वरा शक्ति वरदान है, इसका पूरा लाभ उठाएं- डीएम



राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत किसान गोष्ठी/प्रदर्शनी का हुआ उद्घाटन

आजमगढ़ 28 दिसम्बर-- जिलाधिकारी राजेश कुमार द्वारा आज राहुल सांकृत्यायन प्रेक्षागृह सिधारी आजमगढ़ में राष्ट्रीय कृषि विकास योजनान्तर्गत किसान गोष्ठी/प्रदर्शनी का उद्घाटन/शुभारम्भ फीता काटकर व दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। जिलाधिकारी राजेश कुमार ने प्रदर्शनी में लगाये गये सभी स्टालों का अवलोकन किया एवं लगाये गये स्टालों के बारे मे जानकारी प्राप्त किया। जिलाधिकारी ने किसानों की आय बढ़ाने के लिए नवोन्मेषी प्रयोग करने पर बल देते हुए दो से अधिक फसल लेने और पारंपरिक खेती से आगे बढ़ने की सलाह दी। उन्होंने सहफसली खेती के अनुसंधानों और एक पौधे में अधिक तरह के उत्पादन अपनाने की जरूरत को बताया। उन्होने कहा कि पूर्वांचल की भूमि की उर्वरा शक्ति वरदान के रूप में मिली है, इसका पूरा लाभ उठाना चाहिए। जिलाधिकारी ने कृषि निवेशों के प्रबन्धन के जरिए लागत कम करने और उत्पादन बढाने की आवश्यकता के बारे में बताया। उन्होने जैविक खेती और अध्यात्म के समन्वय की चर्चा करते हुए किसानों के जीवन में खुशहाली पर बल दिया। गोष्ठी में लगाये गये विभागीय स्टॉल पर उत्साहवर्धन किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जनसंख्या के बढ़ने से खेती योग्य जमीन कम होती जा रही है, इसलिए आधुनिक तरीके से खेती पर बल देना होगा और नई तकनीक का प्रयोग कर खेतों मे फसलों की अधिक पैदावार की जा सकती है। साथ ही खेतों में रसायनों, किटनाशकों का प्रयोग कम करना होगा तथा खेती करने के लिए वैज्ञानिक विधि को अपनाने की आवश्यकता है। योजनाओं की जानकारी के साथ-साथ मुख्य रूप से सिंचाई दक्षता बढाये जाने हेतु माइक्रोइरीगेशन (ड्रिप/स्प्रिंकलर) सिंचाई तकनीकी, जैविक खेती एवं किसानो की आय दोगुनी करने हेतु वैज्ञानिकों द्वारा तकनीकी जानकारी दी गयी। गोष्ठी में जिलाधिकारी को उपनिदेशक उद्यान, मनोहर सिंह व जिला उद्यान अधिकारी श्रीमती ममता सिंह यादव ने जरबेरा और एंटी राइनम का पौध स्मृति चिन्ह के रूप में भेट किया। जिला कृषि अधिकारी गगनदीप सिंह ने फसल बीमा सहित अन्य किसान उपयोगी विषय के बारे में विस्तार से चर्चा किया। गोष्ठी में कृषि विज्ञान केन्द्र कोटवा के प्रभारी डॉ0 आरके सिंह, डॉ0 आरपी सिंह, डॉ0 अखिलेश कुमार यादव, जिला कृषि रक्षा अधिकारी सुधीर सिंह, वरिष्ठ गन्ना निरीक्षक अशोक वर्मा, एनएफएसएम के सलाहकार डॉ0 रामकेवल यादव, कार्यकारी मत्स्य पालन अधिकारी व राकेश पाण्डेय ने आधुनिक तकनिक से खेती करने के बारे में किसानों को जानकारी दी। इस मौके पर 40 किसानों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। अन्त में उप निदेशक उद्यान मनोहर सिंह एवं जिला उद्यान अधिकारी श्रीमती ममता यादव, आजमगढ़ द्वारा समस्त आगुन्तकों का आभार प्रकट करते हुए गोष्ठी के समापन की घोषणा की गयी। इस अवसर पर संबंधित विभागों के अधिकारीगण एवं अधिक संख्या में कृषक उपस्थित रहे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment