.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: श्रद्धा और उत्साह के साथ मना प्रथम गुरु नानक देव का प्रकाशोत्सव 


सबद कीर्तन के बाद लंगर में मिला सामाजिक एकता का संदेश

निजामाबाद के गुरुद्वारा चरण पादुका साहिब में भी लगी हाजिरी

आजमगढ़ : सिख संप्रदाय के प्रथम गुरु नानक देव के प्रकाशोत्सव पर शुक्रवार को गुरुद्वारों में हजारों लोगों ने हाजिरी लगाई और गुरु ग्रंथ सहिब के समक्ष शीश झुकाकर सुख-समृद्धि की कामना की। सिख परिवारों के अलावा अन्य लोगों में भी गुरुद्वारा पहुंचने को लेकर उत्साह दिखा। नगर के मातवरगंज स्थित श्री सुंदर गुरुद्वारा में सुबह से ही श्रद्धालुओं के पहुंचने का क्रम शुरू हो गया था जो देर शाम तक चलता रहा। महिलाओं और बच्चों में गुरुद्वारे पहुंचने को लेकर कुछ ज्यादा ही उत्साह देखा गया। लोगों ने गुरुद्वारे में पहुंचकर सबसे पहले फूलों से सजी पालकी में विराजमान गुरु ग्रंथ साहिब के समक्ष मत्था टेका और खुद के साथ परिवार के सुख-समृद्धि की कामना की। सुबह से ही पाठ शुरू हो गया था जिसके समाप्त होने पर भोग अर्पित किया गया। इसके बाद सबद कीर्तन फिर कड़ाह प्रसाद का वितरण किया गया। भजन-कीर्तन में बच्चों ने भी भाग लिया। पाठ की समाप्ति के बाद अरदास और दोपहर बाद लंगर शुरू हुआ। लंगर में सामाजिक एकता की भी साफ झलक दिख रही थी। लंगर में कोई न तो बड़ा था और ना ही छोटा। सभी एक ही पांत में जमीन पर बैठकर गुरु का प्रसाद मान लंगर चख रहे थे। सिख संप्रदाय के अलावा हिदू संप्रदाय के लोगों ने भी गुरुद्वारों में पहुंचकर सिर को ढंकने के बाद गुरुग्रन्थ साहिब के समक्ष शीश झुकाया और सुख-शांति की कामना की। निजामाबाद में गुरु नानक देव के 552वें प्रकाशोत्सव पर ऐतिहासिक गुरुद्वारा चरण पादुका साहिब में उल्लास और श्रद्धा का संगम दिखा। दूर-दराज से आई हुई संगतों ने मत्था टेका तो रागी जत्थे ने सबद कीर्तन से लोगों को निहाल किया। उपजिलाधिकारी राजीव रत्न सिंह ने भी हाजिरी लगाई। इसके अलावा जिला मुख्यालय, फूलपुर व अन्य जगहों से सिख संगतें पहुंची थीं।फूलों से सुसज्जित पालकी पर सजे गुरुग्रंथ साहिब के सामने शीश झुकाकर आशीर्वाद लिया। गुरुद्वारे के सेवादार जगदीश सलूजा ने गुरु पर्व की महत्ता को विस्तार से बताया। गुरुद्वारे की सेवा में स्थानीय युवकों ने भी बढ़-चढ़कर सहभागिता की।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment