.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: राष्ट्रीय ओलमा कौंसिल ने संघर्ष जारी रखने का लिया संकल्प 



स्थापना दिवस मना ‘संघर्ष के 13 साल’ मंत्र पर कई राजनीतिक संदेश दिए

कौंसिल ने दिखाया कि आज भी ईमानदारी और सिद्धांतों की राजनीति हो सकती है - तल्हा रशादी

आजमगढ़ः ‘संघर्ष के 13 साल’ शीर्षक के साथ राष्ट्रीय ओलमा कौंसिल ने सोमवार को शहर के एक हाल में 13वां स्थापना दिवस मनाने के साथ ही कई राजनैतिक संदेश भी दिए। कार्यक्रम की शुरुआत में लखीमपुर की घटना में मृत किसानों को श्रद्धांजलि दी गई। पार्टी नेताओं ने कार्यकर्ताओं में नई ऊर्जा भरी और 2022 के विधानसभा चुनाव की तैयारी में लग जाने का संदेश दिया। कौंसिल के प्रदेश अध्यक्ष ठाकुर अनिल सिंह ने बताया कि देश भर के 14 राज्यों में संगठन बनाकर कौंसिंल काम कर रही है। हम राजनीति में सत्ता के लोभ के लिए नहीं बल्कि जनता के मुद्दों और समस्याओं के संघर्ष के लिए आए। आज पूरे देश में संघर्ष और ईमानदारी ही हमारी पहचान है। राष्ट्रीय महासचिव तलहा रशादी ने कहाकि देश की जनता राजनीति में ईमानदारी और सेवाभाव चाहती हैं। कौंसिल ने पिछले 13 सालों में साबित करके दिखाया है कि आज भी ईमानदारी और सिद्धांतों की राजनीति की जा सकती है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment