.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: धान खरीद केन्द्रों पर सारी व्यवस्थायें पहले ही पूर्ण कर लें: मण्डलायुक्त


धान खरीद में बरतें पूरी संवेदनशीलता, पूर्व की कमियों दुबारा न मिलें: विजय विश्वास पन्त

आज़मगढ़ 29 अक्टूबर -- मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने धान खरीद की तैयारियों की समीक्षा के दौरान सभी एजेन्सियों से सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि क्रय केन्द्रों पर जो भी व्यवस्थायें की जानी है उसे पहले ही पूर्ण कर ली जाये ताकि खरीद निर्बाध्य रूप से सुगमतापूर्वक हो सके। उन्होंने वृहस्पतिवार को देर सायं अपने कार्यालय के सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक में मण्डल के जनपदांे में धान क्रय हेतु की गयी व्यवस्थाओं का जायजा लेते हुए कहा कि गत वर्ष कतिपय एजेन्सियों के स्तर पर कमियॉं रह जाने के फलस्वरूप खरीद का कार्य बाधित हुआ था। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि गत वर्ष की खरीद का परीक्षण कर लें तथा जो कमियॉं थी उसकी पुनरावृत्ति इस बार किसी भी दशा में नहीं होनी चाहिए। उन्होंने सचेत किया कि यदि इस बार कमी मिलती है तो सम्बन्धित के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराये जाने की कार्यवाही की जायेगी। मण्डलायुक्त पन्त द्वारा, धान क्रय हेतु किसानों के रजिस्ट्रेशन में मण्डल की खराब प्रगति वाली तहसीलों के सम्बन्ध मेें पूछे जाने पर अवगत कराया गया कि आज़मगढ़ में तहसील सदर, मऊ में मधुबन एवं बलिया में तहसील बैरिया एवं बेल्थरारोड में रजिस्ट्रेशन के सत्यापन की प्रगति बहुत कम है। यह भी बताया गया कि तहसील सदर आज़मगढ़ में 910 के सापेक्ष 450 रजिस्ट्रेशन का सत्यापन किया गया है। इस पर उन्होंने एसडीएम को निर्देशित किया कि इस ओर अपेक्षित ध्यान देकर समय से शत प्रतिशत सत्यापन सुनिश्चित करायें। श्री पन्त ने समस्त एसडीएम एवं अन्य सम्बन्धित अधिकारियों से कहा कि व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार कराकर किसानों को अपनी उपज निकटतम क्रय केन्द्र पर बेचने हेतु जागरुक करायें ताकि अधिक से अधिक किसान लाभान्वित हो सकें। यह भी बताया गया कि गत वर्ष मण्डल के जनपदों में लगभग 60 हजार किसानों का रजिस्ट्रेशन हुआ था। मण्डलायुक्त विजय विश्वास पन्त ने क्रय एजेन्सियों के पास उपलब्ध संसाधनों की समीक्षा में पाया कि मण्डल में कुल 17 नमी मापक यन्त्र कम हैं, जिसमें पीसीएफ पास आजमगढ़ एवं मऊ में क्रमशः 4 एवं 8 यन्त्र कम हैं, जबकि बलिया में खाद्य विभाग के पास 5 नमीमापक यन्त्र कम हैं। इसी प्रकार तीनों जनपदों में 9 पंखे भी कम है। इस पर मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि तत्काल कमियों को पूरा किया जाय, किसी भी दशा में सांसाधनों के अभाव में धान की खरीद का प्रभावित अथवा अव्यवस्थित होना बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। मण्डलायुक्त द्वारा राईस मिलरों के परिसर में स्थापित क्रय केन्द्रों के बारे में पूछे जाने पर तीनों जनपद के डिप्टी आरएमओ द्वारा अवगत कराया गया कि कहीं भी राइस मिल में क्रय केन्द्र स्थापित नहीं है। उन्होंने खरीदे गये धान के परिवहन के सम्बन्ध में निर्देश दिया कि तीनों जनपदों में परिवहन की गाड़ियॉं अलग अलग होनी चाहिए। इस सम्बन्ध में उन्होंनें निर्देश दिया कि ठेकेदारों से उनकी गाड़ियॉं अन्यत्र नहीं लगी होने के सम्बन्ध में प्रमाण पत्र प्राप्त किया जाय। मण्डल के जनपदों में स्वीकृत क्रय केन्द्रों द्वारा एजेन्सीवार निर्धारित लक्ष्य के सम्बन्ध में अवगत कराया गया कि मण्डल में 189 के सापेक्ष 170 क्रय केन्द्र अनुमोदित हो चुके हैं, जिसमें आज़मगढ़ में खाद्य विभाग के 20, पीसीएफ के 44 एवं भारतीय खाद्य निगम के 2 क्रय केन्द्र, मऊ में खाद्य विभाग के 11, पीसीएफ के 28 एवं भारतीय खाद्य निगम के 2 केन्द्र स्वीकृत हैं। इसी प्रकार बलिया में खाद्य विभाग के 22, पंजीकृत एजेन्सियों के 4,एफपीसी के 14, पीसीएफ के 19, भारतीय खाद्य निगम एवं मण्डी परिषद के 2-2 केन्द्र स्वीकृत हैं। क्रय एजेन्सियों द्वारा आज़मगढ़ में 77700 एमटी, मऊ में 41200 एमटी तथा बलिया में 124400 एमटी धान खरीदे जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया। मण्डलायुक्त श्री पन्त ने निर्धारित लक्ष्य 189 क्रय केन्द्र के सापेक्ष केन्द्र स्थापित किये जाने हेतु मण्डी परिषद एवं एफसीआई द्वारा और केन्द्र बढ़ाये जाने हेतु तत्काल मुख्यालय से अनुमति प्राप्त करने का निर्देश दिया। इस अवसर पर अपर आयुक्त (प्रशासन) अनिल कुमार मिश्र, अपर जिलाधिकारी आज़मगढ़ आजाद भगत सिंह, बलिया राजेश कुमार, मऊ भानु प्रताप सिंह, आरएफसी राममूर्ति पाण्डेय, उप निदेशक, पंचायत राम जियावन, डिप्टी आरएमओ आज़मगढ़, मऊ एवं बलिया क्रमशः गोविन्द कुमार उपाध्याय, विपुल कुमार सिन्हा एवं अविनाश चन्द्र सागरवाल सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment