.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: नागिन की मौत के बाद नाग फरियादी बन पंहुच गया थाने में ! सहमें है ग्रामीण


मेंहनगर का मामला, बाइक से कुचल कर नागिन की हुई थी मौत

अब ग्रामीणों के बीच हवा में तैर रही नाग- नागिन के बदले की कहानी

आजमगढ़: नाग-नागिन के बदले की कहानी अब तक किताबों या फिल्मों में देखने को मिलती थी लेकिन आजमगढ़ जिले के मेंहनगर में नागिन की मौत के बाद एक नाग को थाने पहुंचकर इंसाफ मांगते लोगों ने अपनी आंखों से देखा। किसी तरह नाग को पकड़कर जंगल में छोड़वाया गया। नाग की यह कहानी क्षेत्र में चर्चा का विषय बनी हुई है। लोगों का मानना है कि नाग फिर वापस आयेगा और नागिन की मौत का कारण बने लोगों को नहीं छोड़ेगा। घटना मेंहनगर थाने की है, प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक एक सप्ताह पूर्व शनिवार को थाने में फरियादियों की भीड़ जमा थी। उसी दौरान नाग-नागिन का जोड़ा थाने से कुछ दूरी पर मौजूद था। फरियादी थाने में फरियाद के बाद वापस लौट रहे थे उसी दौरान एक फरियादी की बाइक नागिन पर चढ़ गयी। दुर्घटना में नागिन की मौत हो गयी। इसके बाद नाग बाइक के पीछे भागने लगा। लोगों को लगा कि नाग भाग गया। स्थानीय लोगों ने थाने के पास ही नागिन को दफना दिया और इसे सामान्य घटना समझ लिया। इसी बीच दो दिन पूर्व नाग उस जगह नजर आया जहां नागिन को दफनाया गया था, इससे लोगों में दहशत फैल गयी। थोड़ी देर बाद नाग थाने में पहुंच गया और थानेदार के आफिस के सामने रास्ते पर ही रुका रहा। कुछ पुलिसकर्मियों ने उसे मारने की कोशिश की लेकिन थानेदार ने रोक दिया। फिर किसी तरह नाग को डस्टबिन में डालकर दूर सिवान में छोड़ा गया। घटना चर्चा का विषय बनी हुई है। लोगों का कहना है कि नागिन की मौत से नाग गुस्से में है और शायद फरियाद के लिए थाने पहुंचा था।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment