.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: ससुराल से लौटे युवके ने फंदे से लटक दी जान


मेंहनगर क्षेत्र के पंदहा गांव निवासी युवक ने उठाया आत्मघाती कदम 

आजमगढ़: सोमवार देर रात एक युवक ने फंदे पर लटककर जान दे दी। उसके व्यवहार में बदलाव महसूस हुआ तो आशंकावश बहन उसके सोने वाले जगह पर पहुंची तो नजारा देख सन्न रह गई। उसकी चीख-पुकार सुनकर पास-पड़ोस के लोग पहुंचे तो पुलिस को जानकारी दी जा सकी। युवक ने आत्मघाती कदम क्यों उठाया, इसकी जानकारी स्पष्ट नहीं हो पाई है। देर रात पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर घटना की वजह जानने में जुट गई है। मेंहनगर क्षेत्र के पंदहा गांव निवासी संजय यादव सोमवार को लालगंज के कटघर स्थित अपने ससुराल से घर लौटे थे। उस समय तक सबकुछ ठीक था। रात में भोजन के बाद बरामदा नुमा बने शेड के नीचे सोन चले गए। वहां कुछ देर बाद रस्सी के सहारे फंदा लगा आत्मघाती कदम उठा लिए। मां-पिता का निधन पहले ही हो जाने के कारण घर में इकलौती बहन गुड्डी थी। गांव के लोगों ने बताया कि इधर दो तीन माह से संजय का दिमागी संतुलन ठीक नहीं था। दवाएं हुई तो उसे लाभ भी मिला था। वह ठीक होने के बावजूद परेशान रहने लगा था। इसी बीच ससुराल से लौटने के बाद उसके आत्मघाती कदम उठाने को लेकर लोगों में कई तरह की चर्चाएं थी। भनक लगते ही दौड़ी-भागी घर पहुंची बबिता अपने पति का शव देख दहाड़ मारकर रोने लगी। मृतक तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था। दो भाई सरवन यादव व दिनेश यादव मुंबई में ही गाड़ी चलाकर जीवीकोपार्जन करते हैं। संजय भी पेशे से ड्राइवर था, लेकिन इधर कुछ दिनों से बीमारी के कारण उसका काम छूट गया था। दारोगा आसिफ खां शव को कब्जे में लेकर विधिक कार्यवाही में जुट गए थे। मृतक एक पुत्र रेहांस व एक पुत्री मानसी के पिता थे। पुलिस ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ही बहुत कुछ स्पष्ट हो जाएगा।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment