.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: बाइक की हेडलाइट के अंदर बैठा था सांप, सतर्कता से बची जान


ठेकेदार ने सुबह साइट पर जाने को गाड़ी निकाली तो सांप देख छूटा पसीना

केरोसिन तेल फेंकने पर फन काढ़ते बाहर निकल खेतों में गुम हो गया

आजमगढ़: बारिश के दिनों में सर्पदंश की घटनाएं बढ़ गईं हैं। ऐसे में सतर्कता से ही बचाव का बड़ा रास्ता है। ठेकेदार मोहम्मद नाजिर की जान सतर्कता के कारण ही बच गई। उन्होंने अक्ल लगाकर सांप को बाहर निकाला तो वह खेतों की ओर भाग गया। उन्होंने सांप को मारने दौड़े लोगाें को भी रोक दिया। बिहार के कठियार जिला अंतर्गत परानपुर थाना के ग्राम केवाला निवासी मोहम्मद नाजिर ठेकेदारी कर परिवार का भरण-पोषण करते हैं। वह सरायमीर के खरेवां मोड़ पर डाक्टर हमीदुल्लाह के मकान में करीब सात वर्षों से किराए का कमरा लेकर परिवार के साथ रहते हैं। वह शनिवार की रात साइट से लौटे तो बाइक रोज की तरह कैंपस में खड़ी कर अपने कमरे में जा पहुंचे। रविवार की सुबह बाइक स्टार्ट की तो और साइट पर पहुंचने को गाड़ी दौड़ा दी। कुछ दूर जाने के बाद उनकी निगाह हेडलाइट पर पड़ी तो परेशान हो उठे। दरअसल, उसमें छिपा बैठा सांप उन्हें स्पष्ट रूप से दिख जा रहा था। उन्होंने अगले ही पल बाइक सड़क किनारे खड़ी कर लोगों से मदद मांगी। वह सांप को मारने देने के मूड में भी नहीं थे। ऐसे में ग्रामीणों की सलाह पर केरोसिन तेल फेंका गया तो सांप फुंफकारते हुआ बाहर निकल आया। ग्रामीणों ने मारने की सोची तो उन्होंने मना कर दिया। कहे कि बारिश के मौसम में सांपों काे छिपने के लिए जगह चाहिए। हमें सतर्क रहना होगा कि रात में खड़ी बाइक को लेकर निकलें तो सतर्कता बरतें। हम सतर्क हाेंगे तो खुद की जान सलामत रहने के साथ हम सांप को बचाकर पर्यावरण की मदद भी कर पाएंगे। बहरहाल, ऐसा सभी को करना चाहिए।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment