.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आजमगढ़: ईट भट्ठा मालिक के साथ हुई लूट का खुलासा, दो गिरफ्तार


लूट के 21500 रुपए तथा वारदात में प्रयुक्त बाइक व असलहा बरामद
 

कोरोना के चलते हुए बेरोजगार तो करने लगे थे वारदात

आजमगढ़: मुबारकपुर थाना एवं स्वात टीम की संयुक्त प्रयास से मंगलवार की सुबह बाइक सवार दो अपराधियों की गिरफ्तारी करते हुए पुलिस ने बीते 7 अगस्त को ईट भट्ठा मालिक के साथ हुई लूट का खुलासा कर दिया। पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से पुलिस ने लूटे गए रुपयों में 21500 रुपए तथा घटना में प्रयुक्त बाइक व असलहा बरामद किया है। इस मामले में पुलिस को अभी एक आरोपी की तलाश है। गौरतलब है कि मुबारकपुर थाना क्षेत्र के ओझौली ग्राम निवासी एवं ईंट व्यवसायी शंभूनाथ सिंह पुत्र स्व. रामकरन सिंह बीते 7 अगस्त की शाम अपने ईंट भट्ठा से वापस घर लौट रहे थे। ओझौली गांव स्थित पुलिया के समीप बाइक सवार तीन बदमाशों ने उन्हें असलहे की मुठिया से घायल कर उनके पास मौजूद 50000 रुपये तथा शरीर पर मौजूद जेवर और मोबाइल फोन लूट कर फरार हो गए। घटना के संबंध में पीड़ित एक व्यवसायी ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ स्थानीय थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर वारदात में शामिल बदमाशों की धरपकड़ के लिए स्थानीय पुलिस के साथ ही जिले में तैनात स्वात टीम को भी लगाया गया था। बदमाशों की टोह में लगी पुलिस टीम को मंगलवार की सुबह सूचना मिली की लूट की घटनाओं को अंजाम देने वाले बदमाश बाइक पर सवार होकर शाहगढ़ से मुबारकपुर की ओर जाने वाले हैं। पुलिस सक्रिय हुई और मुबारकपुर कस्बे से सटे इस्लामपुरा मोहल्ले के समीप वाहनों की चेकिंग शुरू कर दी गई। सुबह करीब 8.30 बजे काले रंग की स्प्लेंडर बाइक पर सवार दो युवकों को पुलिस ने रुकने का इशारा किया। पुलिस देख दोनों वाहन मोड़ कर भागने का प्रयास करते समय लड़खड़ा कर वाहन सहित गिर पड़े, जिन्हें पकड़ लिया गया। तलाशी के दौरान पुलिस ने उनके कब्जे से 315 बोर का तमंचा व दो जिंदा कारतूस के साथ ही 21500 रुपए बरामद कर लिए। पूछताछ के दौरान पकड़े गए बदमाशों ने एक पखवारा पूर्व हुई लूट का जुर्म स्वीकार करते हुए पुलिस को बताया कि उस वारदात में उनका एक साथी और शामिल था। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में विजय प्रताप सिंह पुत्र स्व. दयानंद सिंह एवं पवन सिंह उर्फ गोलू पुत्र प्रभुनाथ सिंह जीयनपुर कोतवाली क्षेत्र के अमुवारी नरायनपुर गांव के निवासी हैं। इस मामले में पुलिस को अभी इसी गांव के प्रवीण सिंह उर्फ कतवारू पुत्र रामनयन सिंह की तलाश है। गिरफ्तार बदमाशों ने पुलिस को बताया कि कोरोना संक्रमण काल के चलते काम-धंधा बंद हो जाने के बाद आई बेरोजगारी को दूर करने के लिए वह छोटी-मोटी वारदात कर अपनी आजीविका चलाते थे।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment