.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.

.
.

आज़मगढ़: घाघरा की बाढ़ और कटान का जायजा लेने पंहुचे डीएम और एसपी


मठिया रिंग बांध पूरी तरह सुरक्षित है, ग्रामीण घबराएं नही,सचेत रहें - डीएम

पुलिस लगातार गश्त कर रही है,जरूरत पड़ी तो लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाएंगे- एसपी

आजमगढ़ : यूपी के आजगमगढ़ जिले में घाघरा नदी का जलस्तर बढ़ने से सैकड़ों एकड़ कृषि योग्य भूमि बर्बाद हो गई है। आजमगढ़ जिले के उत्तरी इलाके में घाघरा नदी करीब 45 किलोमीटर लंबे दायरे में बहती है। घाघरा नदी में हर वर्ष बाढ़ आती है, जिसकी वजह से एक बड़ा इलाका बाढ़ प्रभावित हो जाता है। कुछ रोज पहले घाघरा का जलस्तर घट गया था, लेकिन फिर जलस्तर बढ़ने से परेशानियां बढ़ गई हैं। जलस्तर बढ़ने के कारण कटान तेज हो गई है। इस कटान का सबसे ज्यादा असर मठिया रिंग बांध पर पड़ रहा है जो घाघरा नदी के दबाव के चलते डेंजर जोन में आ गया है। इसे बचाने के लिए बाढ़ विभाग के अधिकारी और प्रशासन के लोग कड़ी मशक्कत कर रहे हैं। हालात का जायजा लेने के लिए मंगलवार को जिलाधिकारी राजेश कुमार और पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार सिंह बाल खंड के अधिशासी अभियंता दिलीप कुमार के साथ मौके पर पहुंचे। मठिया रिंग बांध का निरीक्षण करने के बाद डीएम और एसपी ने दावा किया कि बांध पूरी तरह से सुरक्षित है ग्रामीणों को घबराने की जरूरत नही है। उन्होंने कहा कि सिंचाई विभाग और बाढ़ खंड की टीम 200 मजदूरों के साथ तेजी से काम कर रही है बांध पर कोई खतरा नहीं है। सुधीर कुमार सिंह का कहना है कि बाढ़ चौकियां सक्रिय है। पुलिस लगातार गश्त कर रही है । अगर जरूरत पड़ी तो ग्रामीणों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाया जाएगा लेकिन अभी तक कोई ऐसी स्थिति नहीं बनी है।

Share on Google Plus

रिपोर्ट आज़मगढ़ लाइव

आजमगढ़ लाइव-जीवंत खबरों का आइना ... आजमगढ़ , मऊ , बलिया की ताज़ा ख़बरें।
    Blogger Comment
    Facebook Comment